यूपी में मस्जिदों के अंदर पढ़ी गई अलविदा जुमे की नमाज, योगी राज में जारी किया गया था ये फरमान

मस्जिदों के आसपास भारी पुलिस फोर्स तैनात रही। मेरठ में शाही जामा मस्जिद के अंदर ही नमाज अदा की गई।

 पुलिस और प्रशासन की सख्ती के बीच शुक्रवार को अलविदा जुमे पर सड़कों पर नमाज नहीं पढ़ी गई। अकीदतमंदों ने मस्जिदों और ईदगाह में नमाज अदा की। इस दौरान पुलिस, पीएसी और आरआरएफ के जवान तैनात रहे।

अलविदा जुमे की नमाज को लेकर मेरठ शहर में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए। अलविदा जुमे से पहले गुरुवार को आईजी प्रवीण कुमार, जिलाधिकारी दीपक मीणा और एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने मेरठ शहर में रूट मार्च निकाला था। इस दौरान लोगों से सड़कों पर नमाज नहीं पढ़ने को कहा गया। इसका असर शुक्रवार, 29 अप्रैल को अलविदा जुमे की नमाज के दौरान दिखाई दिया।

मस्जिदों के आसपास भारी पुलिस फोर्स तैनात रही। मेरठ में शाही जामा मस्जिद के अंदर ही नमाज अदा की गई। इसी तरह से मेरठ शहर की अन्य मस्जिदों में भी अंदर ही नमाज अदा की गई। इमलियान मस्जिद के बाद भी पुलिस बल तैनात रहा। इसके साथ ही ईदगाह के अंदर ही नमाज हुई। जिलाधिकारी दीपक मीणा और एसएसपी प्रभाकर चौधरी लगातार शहर में भ्रमण करते रहे। हापुड़ अड्डा स्थित इमलियान मस्जिद कमेटी ने पहले ही लोगों को सड़क पर नमाज नहीं पढ़ने की सूचना दे दी थी। इसके साथ ही बैनर भी लगा दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here