जानिये कैसी है अग्निपथ योजना, क्या हैं इसके लाभ?

यह योजना राजस्थान और गुजरात के युवाओं को सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्र की सेवा करने के सपने को पूरा करने का अवसर प्रदान करेगी।

भारत सरकार ने सशस्त्र बलों में सेवा करने के लिए भारतीय युवाओं के लिए एक आकर्षक भर्ती योजना को मंजूरी दी। इस योजना को अग्निपथ योजना कहा गया है और इसके तहत चुने गए युवाओं को अग्निवीर के नाम से जाना जाएगा। अग्निपथ योजना, देशभक्त और प्रेरित युवाओं को चार साल की अवधि के लिए सशस्त्र बलों में सेवा करने का अवसर प्रदान करता है। यह योजना महिलाओं और पुरुषों को समान अवसर प्रदान करती है।

जोधपुर सैन्य स्टेशन में क्षेत्रीय मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत करते हुए, लेफ्टिनेंट जनरल राकेश कपूर, विशिष्ट सेवा मेडल, जनरल ऑफिसर कमांडिंग, डेजर्ट कोर ने योजना की मुख्य पहलुओं पर प्रकाश डाला।

तीनों सेवाओं में लागू होगी योजना
अग्निवीरों को तीनों सेवाओं में लागू जोखिम और कठिनाई भत्ते के साथ एक आकर्षक निर्धारित मासिक पैकेज दिया जाएगा। चार साल की अवधि पूरी होने पर, अग्निवीरों को एकमुश्त ‘सेवा निधि’ पैकेज का भुगतान किया जाएगा, जिसमें उनके योगदान की संचित राशि और सरकार से मिलने वाला योगदान पर अर्जित ब्याज शामिल होगा। योग्यता और संगठनात्मक आवश्यकता के आधार पर, केंद्रीय, पारदर्शी और कठोर प्रणाली के माध्यम से चार साल की सेवा के बाद चुने गए 25 प्रतिशत तक अग्निवीरों को सशस्त्र बलों के नियमित संवर्ग में सम्मिलित किया जाएगा।

ये भी पढ़ें – बिहार में ‘अग्निपथ’ का विरोध, बक्सर में पथराव तो मुजफ्फरपुर में आगजनी और हंगामा! जानें, क्या है कारण

सेना की सेवाओं के साथ ही हैं कई लाभ
कोर कमांडर ने अग्निपथ योजना की एक परिवर्तनकारी योजना के रूप में सराहना की, जो राजस्थान और गुजरात के युवाओं को सशस्त्र बलों में शामिल होने और राष्ट्र की सेवा करने के सपने को पूरा करने का अवसर प्रदान करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि यह योजना युवाओ को टूर ऑफ ड्यूटी के बाद समाज में सैन्य लोकाचार के साथ, सशक्त, अनुशासित और कुशल युवाओं के माध्यम से राष्ट्रीय एकता और राष्ट्र निर्माण की दिशा में एक बड़ा योगदान देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here