ट्रेन टिकट पर मिलता है 10 लाख का बीमा, जानें कब और कैसे ले सकते हैं फायदा

अगर आप ट्रेन से सफर करते हैं और ऑनलाइन टिकट बुक करते हैं तो आपको ट्रैवल बीमा जरूर लेना चाहिए।

80

ओडिशा (Odisha) के बालासोर (Balasore) में तीन ट्रेनों की टक्कर की भयावह तस्वीरों ने पूरे देश को हिला कर रख दिया। भले ही ट्रेन से यात्रा (Travel by Train) करना अभी भी परिवहन के सबसे सुरक्षित साधनों में से एक माना जाता है। लेकिन फिर भी भारतीय रेलवे (Indian Railways) 0.35 पैसे के प्रीमियम पर बीमा (Insurance) भी प्रदान करता है जिसे ग्राहक आईआरसीटीसी (IRCTC) की आधिकारिक वेबसाइट (Website) या मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से टिकट (Tickets) बुक करते समय चुन सकते हैं। इसका फायदा यह होगा कि ट्रेन में यात्रा के दौरान हुई किसी भी घटना का मुआवजा लिया जा सकेगा।

हालांकि इस हादसे में जाने वाले यात्रियों की जान की कोई कीमत नहीं हो सकती है, लेकिन उनके परिवारों को मदद जरूर मिल सकती है। इसी उम्मीद के साथ हम यह जानकारी दे रहे हैं। आपको बता दें कि ऑनलाइन ट्रेन टिकट बुक करते समय यात्रियों को आईआरसीटीसी द्वारा बीमा पॉलिसी का विकल्प दिया जाता है। इस सुविधा के तहत यात्रियों को 10 लाख रुपए तक का बीमा कवर देने का नियम है। लेकिन देखा गया है कि लोग सिर्फ 35 पैसे बचाने के लिए इस विकल्प को नहीं चुनते हैं। यदि कोई व्यक्ति टिकट बुक करते समय इस विकल्प को चुनता है, तो उसकी ई-मेल आईडी और मोबाइल नंबर पर एक लिंक भेजा जाएगा। इस लिंक के माध्यम से यात्रा करने वाला व्यक्ति इस वेबसाइट को खोलकर इसमें नामांकित व्यक्ति का विवरण भर सकता है।

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र में शिवसेना और भाजपा मिलकर लड़ेंगे सभी चुनाव: मुख्यमंत्री शिंदे

10 लाख का बीमा
इस सुविधा के जरिए आईआरसीटीसी अपने यात्रियों को 10 लाख रुपए तक का बीमा कवर मुहैया कराती है, वह भी 35 पैसे से कम की लागत पर। इस विकल्प का लाभ उठाने के लिए यात्रियों को विकल्प पर क्लिक करना होगा और टिकट बुक करते समय कुछ विवरण भरना होगा। यह सरल कदम उन्हें भारतीय रेलवे की ट्रेनों में यात्रा करते समय होने वाली किसी भी क्षति के लिए बीमा द्वारा कवर कर सकता है।

बीमा का दावा कैसे करें?
रेल दुर्घटना होने के 4 महीने के भीतर यात्री बीमा का दावा कर सकते हैं। आईआरसीटीसी द्वारा दी जाने वाली इस सुविधा के लिए यात्री बीमा कंपनी के कार्यालय में जाकर बीमा के लिए दावा कर सकते हैं। यात्री बीमा खरीदते समय नॉमिनी का नाम जरूर भरें, ताकि किसी तरह की अप्रिय घटना होने पर क्लेम करने में दिक्कत न हो।

देखें यह वीडियो- भारत में वह नौ रेल दुर्घटनाएं, जिससे कांपे लोग

Join Our WhatsApp Community

Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.