जम्मू-कश्मीर में आतंक पर प्रहारः 6 आतंकी ढेर, इस प्रतिबंधित संगठन से था संबंध

कश्मीर जोन के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने 30 दिसंबर को इस बारे में ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दो अलग-अलग मुठभेड़ में छह आतंकी मारे गए हैं।

जम्मू-कश्मीर में आतंक पर प्रहार लगातार जारी है। इसी कड़ी में सुरक्षा बलों को एक और बड़ी सफलता मिली है। अनंतनाग और कुलगाम में हुई मुठभेड़ में छह आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया गया है। इनमें दो पाकिस्तानी नागरिक और प्रतिबंधित आतंकी संगठन जैश-ए मोहम्मद के छह आतंकी शामिल हैं।

कश्मीर जोन के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने 30 दिसंबर को इस बारे में ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दो अलग-अलग मुठभेड़ में छह आतंकी मारे गए हैं। इनमें से दो पाकिस्तानी घुसपैठिए और चार स्थानीय जैश-ए-मोहम्मद के लिए काम करने वाले वोग शामिल हैं।

कुलगाम में तीन आतंकी ढेर
कुलगाम जिले के मिरहमा क्षेत्र में गुप्त सूचना के आधार पर घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया गया। इस घटना में आत्मसमर्पण का मौका दिए जाने पर आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकी ढेर हो गए।

ये भी पढ़ेंः इन राज्यों में कोरोना की पाठशाला, दिल्ली में भी लगा प्रतिबंध… जानें सरकार की सूचनाएं

अनंतनाग में भी बच नहीं पाए आतंकी
दूसरी तरफ, 29 दिसंबर देर शाम पुलिस को अपने गुप्त सूत्रों से अनंतनाग के दूरु क्षेत्र में आतंकियों के छिपे होने की पुख्ता सूचना मिली। इस पर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने क्षेत्र की घेराबंदी करके तलाशी अभियान शुरू किया। इसी दौरान क्षेत्र में छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों को पास आते देखकर गोलीबारी की, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

एक पुलिस कर्मी हुतात्मा
गोलीबारी शुरू होते ही सुरक्षाबलों ने आतंकियों से समर्पण करने की अपील की लेकिन आतंकियों ने गोलीबारी तेज कर दी। आतंकियों की गोलीबारी के दौरान एक पुलिस कर्मी घायल भी हो गया। उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां वह इलाज के दौरान हुतात्मा हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here