जम्मू-कश्मीरः लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकी ऐसे किए गए ढेर

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिलाे में मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया है। ये सभी एक बाग में छिपे हुए थे।

दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के कोकेरनाग में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकवादियों को मार गिराया। 11 मई को हुई इस मनुठभेड़ में मारे गए आतंकवादी लश्क-ए-तैयबा के बताए जा रहे हैं। हालांकि अभी तक इनकी पूरी पहचान नहीं हो पाई है।मुठभेड़ खत्म होने के बाद भी सेना ने सर्च ऑपरेशन कर यह सुनिश्चित कर ली कि कोई और आतंकवादी तो कहीं छिपे हुए नहीं हैं।

बड़े पैमाने पर हथियार और गोला बारुद बरामद
मारे गए आतंकवादियों के शवों को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। मुठभेड़ स्थल से बड़े पैमाने पर हथियार और गोला-बारुद बरामद किए गए हैं। पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने तीनों आतंकियों के मारे जाने के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ के दौरान उन्हें कई बार आत्मसमर्पण का अवसर दिया गया, लेकिन वे नहीं माने और गोलीबारी करते रहे। आखिर मुठभेड़ के दौरान तीनों आतंकवादी मारे गए। वे स्थानीय बताए जा रहे हैं, लेकिन अभी तक उनकी पहचान नहीं हो पाई है।

ये भी पढ़ेंः वो पांच मिनट संभल जाते तो बच जाती 11 जान! जानें क्या हुआ रात में कि निकला दम

ऐसो मारे गए आतंकवादी
11 मई को सुबह इन आतंकवादियों के छिपे होने की जानकारी मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने अनंतनाग जिले के वाइलो इलाके को घेर लिया गया। इसके लिए एसओजी, सेना की 19 आरआर और सीआरफीएफ की 19 बटालियन के जवान इस ऑपरेशन के लिए घटनास्थल पर पहुंच गए और घेराबंदी कर दी। इस दौरान छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी।

बाग में छिपे थे आतंकवादी
ये आतंकी एक बाग में छिपे हुए थे। सुरक्षाबलों ने पहले तो उन्हें आत्मसमर्पण करने के लिए कहा, लेकिन जब वे नहीं माने तो जवानों ने जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी और तीनों मार गिराए गए। बता दें कि इस वर्ष अब तक जम्मू-कश्मीर में 46 आतंकवादी मार गिराए गए हैं। इनमें से ज्यादातर शोपियां जिले के रहने वाले थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here