रियर एडमिरल के.पी. अरविंदन ने संभाला नौसेना डॉकयार्ड (मुंबई) के एडमिरल अधीक्षक का कार्यभार

रियर एडमिरल के.पी. अरविंदन, वीएसएम ने 14 जनवरी 2022 को एक समारोह के दौरान रियर एडमिरल बी शिवकुमार, वीएसएम से मुंबई में नौसेना डॉकयार्ड के एडमिरल अधीक्षक का कार्यभार ग्रहण किया।

रियर एडमिरल के.पी. अरविंदन लोनावला में नवल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, आईएनएस शिवाजी के पूर्व छात्र रहे हैं। वे नौसैनिक इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम के पहले बैच से उत्तीर्ण हैं और नवंबर 1987 में भारतीय नौसेना में शामिल हुए थे। रियर एडमिरल अरविंदन एनआईटीआईई, मुंबई से समुद्री इंजीनियरिंग में बी-टेक डिग्री के धारक हैं और उन्होंने औद्योगिक इंजीनियरिंग में एम-टेक की डिग्री भी प्राप्त की है।

ये भी पढ़ें – शिक्षा कैसे सुधरेगी? मुंबई विश्वविद्यालय के कॉलेजों में प्राचार्य ही नहीं

34 वर्षों से अधिक का अनुभव
समय के सेवाकाल में अरविंदन ने कमांड मुख्यालय, प्रशिक्षण प्रतिष्ठानों, समुद्री गैस टरबाइन परीक्षण केंद्र, आईएनएस एक्सिला और नवल डॉकयार्ड, मुंबई में कार्यरत रहने सहित विभिन्न पदों पर जिम्मेदारियां संभाली हैं। उन्होंने पेट्या श्रेणी के गश्ती पोत, मिसाइल से लैस युद्धक पोत कृपाण और निर्देशित मिसाइल विध्वंसक जहाज राजपूत व रंजीत पर भी कार्य किया है। उनकी हालिया नियुक्तियों में मुख्य रूप से प्रशिक्षण प्रतिष्ठान, आईएनएस शिवाजी का कमांडिंग ऑफिसर बनना और कमोडोर (फ्लीट मेंटेनेंस) होना शामिल है। उन्होंने पहले असाइनमेंट की जिम्मेदारी चार साल की अवधि के लिए संभाली थी। उन्होंने विमान वाहक पोत विक्रमादित्य और भारतीय नौसेना के पनडुब्बी बेड़े के रखरखाव तथा मरम्मत आदि कार्यों से संबंधित गतिविधियों में भी अपनी सेवाएं दी हैं।

फ्लैग रैंक पर पदोन्नति के बाद अरविंदन को नौसेना पोत मरम्मत यार्ड, कारवार का एडमिरल अधीक्षक नियुक्त किया गया है। विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित रियर एडमिरल वर्तमान कार्यभार को संभालने से पहले, पश्चिमी नौसेना कमान के मुख्यालय में मुख्य कर्मचारी अधिकारी (तकनीकी) के रूप में कार्यरत थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here