घाटी में शांति! जानिये, इस वर्ष अब तक कितने आतंकी किए गए ढेर

आइजीपी विजय कुमार ने दावा किया कि कश्मीर घाटी में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। सुरक्षाबलों की बहादुरी की प्रशंसा करते हुए कुमार ने कहा कि फिलहाल कश्मीर पर सुरक्षाबलों का पूरा नियंत्रण है और आतंकियों के लिए कोई वारदात कर बच पाना मुश्किल है।

कश्मीर घाटी में 1 जनवरी 2021 से अब तक 78 आतंकी मार गिराए गए हैं। इनमें 50 प्रतिशत से ज्यादा लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए थे। इस बारे में जानकारी देते हुए कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने इसे सुरक्षाबलों की बड़ी उपबलब्धि बताई। वे कश्मीर के आलमदार कॉलोनी में आइएसजेके के दो आतंकियों के ढेर किए जाने के बाद मीडियाकर्मियों से जानकारी साधा कर रहे थे।

आइजीपी विजय कुमार ने दावा किया कि कश्मीर घाटी में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। सुरक्षाबलों की सक्रियता और बहादुरी की प्रशंसा करते हुए कुमार ने कहा कि फिलहाल कश्मीर पर सुरक्षाबलों का पूरा नियंत्रण है और आतंकियों के लिए कोई वारदात कर बचना मुश्किल है। वे अपनी जान बचाते हुए फिर रहे हैं।

सरेंडर करने का देते हैं पूरा मौका
विजय कुमार ने कहा कि हमारी पहली कोशिश आतंकवादियों को जिंदा पकड़ने या उनके सरेंडर कराने की होती है। इसके लिए पूरा प्रयत्न किया जाता है। लेकिन जब कोई विकल्प नहीं बचता है तो हम मुठभेड़ में जवाबी कार्रवाई करते है और उन्हें मार गिराते हैं। आइजीपी ने कहा कि हम मुठभेड़ के दौरान भी उन्हें सरेंडर करने का अवसर देते हैं।

ये भी पढ़ेंः भारत को मिला ऐसा ‘रोमियो’ जिससे बढ़ी दुश्मन की चिंता

ज्यादातर आतंकी ढेर
विजय कुमार ने पिछले दो साल से कश्मीर की स्थिति में सुधार आने का दावा करते हुए कहा कि हम किसी को भी यहां के हालात बिगाड़ने की इजाजत नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि कश्मीर के ज्यादातर आतंकी मारे जा चुके हैं और जो जिंदा बचा हुए हैं, वे अपने लोगों का मनोबल बनाए रखने और लोगों में भय पैदा करने के लिए बीच-बीच में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की कोशिश कर रहे हैं। कश्मीर के आइजीपी ने कहा कि पर्यटकों की सुरक्षा के लिए विशेष बंदोबस्त किए गए हैं। कश्मीर में पहले की अपेक्षा नाकों में वृद्धि की गई है और ऊंची इमारतों से भी सुरक्षाबल क्षेत्र में पैनी नजर रखते हैं।

खास बातें

  • इस वर्ष कश्मीर में अब तक मारे गए 78 आतंकवादी।
  • 39 आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के हैं।
  • 10 अल बदर के और एक दर्जन हिज्ब के आतंकवादी।
  • 17 अन्य आतंकी पीएएफएफ, आइएसजेके और जैश-ए-मोहम्मद के

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here