इस राज्य में आईएसआई करा सकता है बड़ा आतंकी हमला! हाई अलर्ट जारी

असम पुलिस मुख्यालय में सहायक पुलिस महानिरीक्षक (एआईजी) द्वारा जारी एक सर्कुलर में कहा गया है कि आरएसएस के कार्यकर्ता, सैन्य क्षेत्र, बड़ी सभाएं और धार्मिक स्थल आईएसआई के निशाने पर हैं।

जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले तेज कराने के बाद पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के निशाने पर अब असम बताया जा रहा है। इस पूर्वोत्तर राज्य में आईएसआई द्वारा बड़े पैमाने पर आतंकी हमले कराने के षड्यंत्र रचे जाने की जानकार मिली है। इसे लेकर असम पुलिस ने राज्य में हाई अलर्ट जारी किया है।

भारतीय खुफिया एजेंसियों के अनुसार पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस असम और देश के अन्य हिस्सों में बड़े आतंकवादी हमले की साजिश रच रहा है। असम पुलिस मुख्यालय में सहायक पुलिस महानिरीक्षक (एआईजी) द्वारा जारी एक सर्कुलर में कहा गया है कि आरएसएस के कार्यकर्ता, सैन्य क्षेत्र, बड़ी सभाएं और धार्मिक स्थल आईएसआई के निशाने पर हैं।

इस्लामिक सहयोग संगठन ने की असम सरकार की आलोचना
असम पुलिस द्वारा जारी सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) के महासचिव ने ट्विटर पर एक बयान जारी कर ढालपुर से मुसलमानों को बेदखल करने की निंदा की है और प्रदेश में मुस्लिम समुदाय के खिलाफ व्यवस्थित उत्पीड़न और हिंसा किए जाने का आरोप लगाया है। बता दें कि ढालपुर में अवैध निर्माण तोड़े जाने के बाद बड़े पैमाने पर बाहरी मुसलमान बेघर हो गए हैं।

ये भी पढ़ेंः … ताकि गैर-कश्मीरी श्रमिकों को आतंकी न बना सकें निशाना!

अल-कायदा ने जारी किया भड़काऊ वीडियो
इसके साथ ही अल-कायदा के एक वीडियो संदेश के माध्यम से प्राप्त जानकारी से पता चलता है कि इस आतंकी संगठन ने मुसलमानों से जिहाद के लिए अपील की है। उसके निशाने पर खासकर असम और कश्मीर हैं। अल-कायदा के एएस साहब ने “डोंट सिट इटली ग्रोइंग” नामक एक वीडियो जारी किया है, जिसमें भारतीय मुसलमानों के कथित नरसंहार के वीडियो दिखाए गए हैं। इस वीडियो में मुसलमानों को भड़काने की कोशिश की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here