एनआईए की हिरासत में वाझे की खातिरदारी अवधि बढ़ी

सचिन वाझे को एनआईए ने विशेष न्यायालय में प्रस्तुत किया था। जहां न्यायालय ने एनआईए हिरासत अवधि को दो दिन के लिए बढ़ा दिया है। सचिन वाझे, मनसुख हिरेन मौत और उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के पास विस्फोटक लदी एसयूवी खड़ी करने के प्रकरण में संशयित हैं। केंद्रीय जांच एजेंसी उनसे लगातार पूछताछ कर रही है। उनसे मिली जानकारी और तकनीकि जनकारियों के आधार पर एनआईए ने इस प्रकरण में पूछताछ की।

इसके पहले एनआईए कार्यालय में बुधवार सुबह ही मु्ंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह पहुंचे थे। इसके बाद पूर्व एन्काउंटर स्पेशालिस्ट प्रदीप शर्मा भी पूछताछ के लिए पहुंचे थे। सचिन वाझे सहायक पुलिस निरिक्षक पद पर तैनात था। उसी बीच उद्योपति मुकेश अंबानी के एंटीलिया घऱ के पास एक एसयूवी लावारिस स्थिति में मिली थी। इस प्रकरण की जांच सचिन वाझे के हाथ में थी। इसके बाद एसयूवी के मालिक मनसुख हिरेन की मौत हो गई थी। जिसके बाद यह प्रकरण तेजी से सुर्खियों में आ गया और सचिन वाझे को एनआईए ने गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को भी सचिन वाझे को न्यायालय में प्रस्तुत किया गया था। जहां न्यायालय ने उन्हें 9 अप्रैल तक एनआईए हिरासत में रखने का आदेश दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here