‘परमबीर’ को लगता है अपनी ही पुलिस से डर… सर्वोच्च न्यायालय ने दी राहत

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह को बड़ी राहत मिली है। सर्वोच्च न्यायालय में दायर उनकी याचिका पर सुनवाई दौरान परमबीर के वकीलों ने बताया कि वे भारत में हैं और यदि प्रकरण सीबीआई को दिया जाता है तो वे न्यायालय में पेश होंगे।

जिस पुलिस विभाग का नेतृत्व तीन दशकों तक परमबीर सिंह ने किया उसी मुंबई पुलिस से उन्हें अब डर लगता है। सर्वोच्च न्यायालय में उनकी याचिका पर सुनवाई चल रही है, जिसमें न्यायालय ने परमबीर सिंह को पेश होने और वर्तमान में कहां हैं यह बताने का आदेश दिया था। जिसके बाद परमबीर सिंह के वकीलों ने न्यायालय को सूचित किया कि परमबीर सिंह भारत में ही हैं, यदि यह प्रकरण सीबीआई को दिया जाता है, तो वे उसके 48 घंटे में पेश हाजिर हो जाएंगे।

देशमुख गिरफ्तार, परमबीर फरार?
राज्य के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख को मुबंई के होटल व बार से धन उगाही करने का आरोप पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने लगाया था। इस प्रकरण की सुनवाई बॉम्बे उच्च न्यायालय में चल रही थी, जिसके बाद न्यायालय ने सीबीआई को इस प्रकरण की जांच का आदेश दिया। जबकि, 4 करोड़ रुपए से अधिक की धन उगाही का पता चलने पर इसकी जांच प्रवर्तन निदेशालय ने हाथ में ले लिया। जिसमें अनिल देशमुख की गिरफ्तारी हो चुकी है। जबकि, आरोपकर्ता परमबीर सिंह फरार हैं।

परमबीर सिंह पर धन उगाही के प्रकरण हैं दर्ज 
परमबीर सिंह पर मुंबई और ठाणे पुलिस ने लगभग छह धन उगाही के प्रकरण दर्ज किये हैं। जिसमें, उन्हें पूछताछ के लिए हाजिर होने के समन भेजे गए हैं। इसके अलावा एक प्रकरण में परमबीर सिंह के सह आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया है। इसके बाद परमबीर सिंह ने अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here