आतंकी गिरफ्तारी प्रकरण: महाराष्ट्र एटीएस अब भी खाली हाथ? दिल्ली जाएगी मुंबई पुलिस

भारत में सक्रिय टेरर मॉड्यूल के प्रकरण में एक आरोपी मुंबई का है।

मुंबई एंटी टेरोरिज्म स्क्वॉड ने दाऊद और जान के रिश्ते का खुलासा किया है। एटीएस प्रमुख ने कहा है कि आरोपी जान मोहम्मद उर्फ कालिया का दाऊद से बीस साल पुराना रिश्ता रहा है। लेकिन दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने के विषय में एटीएस के पास कोई जानकारी नहीं है। इससे यह लगने लगा है कि महाराष्ट्र पुलिस इस प्रकरण में अब भी खाली हाथ है।

एटीएस प्रमुख ने कहा है कि, दिल्ली पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है उसमें से 1 आरोपी धारावी का रहनेवाला है जान मोहम्मद अली मोहम्मद शेख है। उस पर 2001 का एक रिकॉर्ड है, जिसमें पाकिस्तान में डी कंपनी के साथ रहने का मामला है। इसके अलावा कुछ नॉन कॉग्निजिबल ऑफेन्स और बिजली चोरी का प्रकरण है। जान मोहम्मद एटीएस के राडार पर था।

ये भी पढ़ें – 26/11 से भी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में थे ये आतंकी! ऐसी थी इनकी साजिश

ऐसी हुई गिरफ्तारी
जान मोहम्मद ने 7 तारीख को दिल्ली जाने का कार्यक्रम बनाया था। उसने 10 सितंबर को पैसे ट्रांसफर किये था। लेकिन उसे कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा था। आखिरकार 13 सितंबर का उसे वेटलिस्ट टिकट मिला जिसे कन्फर्म होने के बाद वह गोल्डन एक्सप्रेस से दिल्ली के लिए निकला था। जहां, कोटा से दिल्ली पुलिस की टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से कोई हथियार या विस्फोटक नहीं मिला।

राडार पर था जान
एटीएस ने बताया कि जान मोहम्मद पुलिस के राडार पर था। परंतु, उसके आतंकी गतिविधियों के लिए संलिप्तता की कोई जानकारी पुलिस के पास नहीं थी। यह जानकारी केंद्रीय एजेंसियों ने दिल्ली पुलिस को दी थी इसलिए प्रकरण में दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई की और उसे कोटा से गिरफ्तार किया। मुंबई में जान मोहम्मद के पास न कोई हथियार था और न ही विस्फोटक था, जो भी गुप्त जानकारी थी वह केंद्रीय एजेंसी के पास थी। इसलिए मुंबई पुलिस या एटीएस के राडार पर होने के बावजूद जान मोहम्मद की आतंकी गतिविधियों के बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here