गढ़चिरोली में ऐसे ढेर किए गए दो नक्सली!

गढ़चिरौली के अहेरी क्षेत्र में मुठभुड़ में पुलिस ने दो नक्सलियों को मार गिराया है। 28 अप्रैल की सुबह उनके छिपे होने के जानकारी मिली थी।

महाराष्ट्र के नक्सल प्रभावित क्षेत्र गढ़चिरौली के अहेरी में मुठभुड़ में पुलिस ने दो नक्सलियों को मार गिराया है। 28 अप्रैल की सुबह नक्सलियों के छिपे होने के जानकारी मिली थी। उसके बाद पुलिस ने क्षेत्र को घेरकर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। इसी दौरान वहां छिपे नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। उसके बाद पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दो नक्सली ढेर हो गए।

इस तरह चलाया गया ऑपरेशन ऑल आउट
28 अप्रैल की सुबह पुलिस विभाग को गोपनीय सूचना मिली थी कि अहेरी क्षेत्र के गुट्टा-जाम्बिया वन क्षेत्र में नक्सली छिपे हुए हैं। इसके बाद पुलिस ने इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू कर दिया। इस दौरान नक्सलियों को आत्म समर्पण के लिए भी कहा गया। लेकिन उन्होंने पुलिस बल पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। पुलिस बल ने भी जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलाईं, जिसमें दो आतंकवादी घटनास्थल पर ही ढेर हो गए। मारे गए नक्सलियों के नाम सूरज नरोटे व विनय नरोटे बताए गए हैं।

ये भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़: नक्सलियों से मुठभेड़ में 22 जवानों को वीरगति, नौ नक्सली भी ढेर

22 अप्रैल को नक्सलियों ने की थी गोलीबारी
बता दें कि  22 अप्रैल की आधी रात को नक्सलियों ने जाम्बिया पुलिस राहत केंद्र के पास गोलीबारी की थी। समझा जा रहा है कि रात के अंधेरे का लाभ उठाकर नक्सलियों की पुलिस बल पर हमला कर बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना थी। उन्होंने फायरिंग करने के साथ ही हथगोले भी फेंके थे।

ये भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश: इन नौ शहरों में डिस्ट्रिक्ट जज करेंगे कोविड 19 कार्यों की निगरानी

सतर्कता के साथ दिया ऑपरेशन ऑल आउट को अंजाम
इस घटना के बाद पुलिस सतर्क हो गई थी और उसने नक्सलियों के बारे में पता लगाना शुरू कर दिया था। 28 अप्रैल को जैसे ही उनके क्षेत्र की जंगलों में छिपे होने की जानकारी मिली, उन्होंने बड़ी सतर्कता से उन्हें घेर लिया और अपने ऑपरेशन को सफलता पूर्वक अंजाम दिया। इस ऑपरेशन को 60 पुलिसकर्मियों ने अंजाम दिया। बता दें कि 4 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सली हमले में सीआरपीएफ के 22 जवान वीरगति को प्राप्त हुए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here