भारतीय सैनिक अब मार्शल आर्ट से देंगे दुश्मन को मात!

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों को अब इस्राइली मार्शल आर्ट और जापानी ऐकिडो का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

भारत-चीन सीमा पर तैनात भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों को अब इस्राइली मार्शल आर्ट और जापानी ऐकिडो का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। तो ये सैनिक दुश्मन से ज्यादा प्रभावी ढंग से लड़ने में सक्षम होंगे। आईटीबीपी के जवानों को पहले ही बॉक्सिंग, कुश्ती, जूडो-कराटे की ट्रेनिंग दी जा चुकी है। अब इसमें कुछ नई चीजें जोड़ी गई हैं। यदि कोई सैनिक निहत्था हो तो भी वह इस प्रशिक्षण से शत्रु को परास्त कर सकता है। ऐकिडो में 15-20 हजार सैनिक दक्ष हैं। ऐकिडो की जापानी मार्शल आर्ट अब शामिल है।

यह भी पढ़ें – ट्विटर के हजारों कर्मचारियों को लगेगा झटका, जानिए क्या है एलोन मस्क की नई योजना!

ITBP जवानों को 24 सप्ताह का प्रशिक्षण दिया जाता है। इसमें इयामा रयू, शिन शिन ऐकी, शूरेन काई शोडोकन ऐकिडो, योशिकन, सेशनिंकाई आदि की शैली और रणनीति भी शामिल है। ITBP ने एक नए प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत पंचकुला में अपने 15,000 से 20,000 जवानों को इजरायली मार्शल आर्ट और जापानी ऐकिडो में प्रशिक्षित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here