चीन को जवाब देने की भारत की ऐसी है तैयारी! कांप उठेगा चालबाज चीन का कलेजा

भारत ने नवंबर 2016 में 75 करोड़ डॉलर में अमेरिका को 145 हॉवित्जर तोपों का ऑर्डर दिया था। आने वाले जून तक भारत को 56 और एम-777 तोपें मिलेंगी।

भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनजर जहां भारत अपनी सैन्य शक्ति बढ़ा रहा है, वहीं सीमा पर पैनी नजर भी बनाए हुए है। इसी क्रम में भारत वास्तविक नियंत्रण रेखा के पहाड़ी इलाकों में एम-777 हॉवित्जर तोपों को तैनात कर सकता है। लद्दाख और एलएसी के पास पहले से ही इन पॉवर तोपों को तैनात किया गया है।

कुछ दिन पहले ही अमेरिकी रक्षा विभाग की रिपोर्ट में दावा किया गया था कि चीन अरुणाचल प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में गांव बसा रहा है। इसे लेकर सीडीएस बिपिन रावत चिंता जता चुके हैं। उन्होंने इस बारे में बात करते हुए चीन को देश का सबसे बड़ा दुश्मन बताया था।

2016 में हुआ था सौदा
भारत ने नवंबर 2016 में 75 करोड़ डॉलर में अमेरिका को 145 हॉवित्जर तोपों का ऑर्डर दिया था। बताया जा रहा है कि आने वाले जून तक भारत को 56 और एम-777 तोपें मिलेंगी। अब तक भारत को 89 होवित्जर तोपें अमेरिका से मिल चुकी हैं।

ये भी पढ़ेंः असम राइफल्स के काफिले पर हमले में चीनी हाथ! जानें, कैसे?

चीन को दिया जाएगा कड़ा संदेश
भारत ने चीन की तैयारियों को देखते हुए वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास पहाड़ी क्षेत्रों में अत्याधुनिक एल-70 विमानभेदी तोपें पहले से ही तैनात कर रखी हैं। अब इन पहाड़ों पर सुपर पॉवर से लैस एम-777 तोपों को भी तैनात किया जा सकता है। ऐसा कर भारत चीन को कड़ा संदेश देना चाहता है। बता दें कि हॉवित्जर तोपों को आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here