श्रीनगर में इस कारण पांच आवासीय भवन कुर्क!

कुर्क किए गए वे घर हैं, जहां यह संदेह से परे साबित हुआ है कि इन घरों का इस्तेमाल आतंकवाद के उद्देश्य से किया गया था।

श्रीनगर पुलिस ने 21 जून को आतंकियों के जानबूझकर पनाह देने के आरोप में श्रीनगर में पांच आवासीय भवनों को कुर्क किया है।

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार पांचों घरों के अधिकार क्षेत्र में संलग्न किया गया है। उन्होंने कहा कि यह वे घर हैं, जहां यह संदेह से परे साबित हुआ है कि इन घरों का इस्तेमाल आतंकवाद के उद्देश्य से किया गया था। इन पांचों घरों में आतंकियों को स्वेच्छा से तथा जानबूझकर ठहरने के लिए दिया गया है। जिसके बाद आतंकियों ने इन घरों में रहकर नागरिकों पर कई हमले किए और सुरक्षा बलों के खिलाफ भी हमलों की साजिश रची थी। प्रवक्ता ने बताया कि इन घरों को ठिकाने के रूप में इस्तेमाल करते हुए आतंकियों द्वारा योजना बनाई गई थी।

ऐसे मामलों में कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी
उन्होंने कहा, ‘ऐसे कुछ और घरों की पहचान की गई है और किसी भी तरह के जानबूझकर पनाहगाह को कानून की पूरी ताकत से निपटा जाएगा। इन पर भी यूएपी अधिनियम की धारा 2 (जी) और धारा 25 के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने नागरिकों से एक बार फिर अनुरोध किया कि वे आतंकियों को पनाह न दें और अगर उन्होंने ऐसा किया तो हम कुर्की की कार्यवाही का सहारा लेने के लिए मजबूर होंगे।’

उन्होंने यह भी कहा कि अगर किसी भी घर में आतंकियों द्वारा जबरदस्ती प्रवेश किया जाता है तो इस मामले को तुरंत पुलिस के संज्ञान में लाया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here