मुंबई पहुंचा ताऊ ते! जानिये कहां, क्या है हाल

चक्रवात ताऊ ते वर्तमान में मुंबई के 150 किमी पश्चिम से गुजर रहा है। मौसम विभाग ने ये जानकारी देते हुए कहा है कि मुंबई और आसपास के इलाकों में अगले 4 से 6 घंटों में तेज हवाओं के साथ भारी से मध्यम बारिश होगी।

चक्रवात ताऊ ते वर्तमान में मुंबई के 150 किमी पश्चिम से गुजर रहा है। मौसम विभाग ने ये जानकारी देते हुए कहा है कि मुंबई और आसपास के इलाकों में अगले 4 से 6 घंटों में तेज हवाओं के साथ भारी से मध्यम बारिश होगी। दोपहर 2 बजे के बाद मुंबई में इसका असर धीरे-धीरे कम होना शुरू हो जाएगा क्योंकि चक्रवात दक्षिण गुजरात की ओर बढ़ रहा है।

इसके साथ ही मुंबई में एहतियाती कदम उठाए गए हैं। मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर चक्रवात ताऊ ते के कारण तीन घंटे के लिए परिचालन बंद रहेगा।

ये भी पढ़ेंः जानिये, कर्नाटक- केरल में तबाही मचाने के बाद कहां पहुंचा ताऊ ते!

प्रवक्ता ने बताया, “चक्रवात की चेतावनी के कारण, मुंबई हवाई अड्डे पर परिचालन स्थानीय समयानुसार 11.00 से 14.00 बजे तक बंद करने की आवश्यकता है।” अधिकारियों के अनुसार, चेन्नई से मुंबई जाने वाली एक स्पाइसजेट की उड़ान, जिसे सुबह 8:15 बजे उतरना था, को पड़ोसी राज्य गुजरात के सूरत में डाइवर्ट करना पड़ा।

मुंबई में यह हाल
चक्रवात के खतरे के मद्दे नजर महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण अभियान को एक दिन के लिए स्थगित कर दिया गया है। देश की आर्थिक राजधानी में कई क्षेत्रों में जल जमाव होने की खबरें मिल रही हैं। कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए हैं, लेकिन जानमाल के नुकसान की कोई बड़ी घटना घटने की खबर नहीं है।
मुंबई महानगरपालिका से मिली जानकारी के अनुसार फिलहाल बांद्रा-वर्ली सी लिंक को याताायत के लिए बंद कर दिया गया है। लोगों को वैकल्पिक मार्ग इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है। बताया जा रहा है कि तूफान के दौरान साढ़े तीन मीटर ऊंची लहरे उठने की आशंका है।

अलर्ट जारी
महाराष्ट्र और गुजरात के साथ ही  केंद्र शासित प्रदेशों में इस चक्रवात के मद्दे नजर अलर्ट घोषित किया गया है। इसके साथ ही आईएमडी की चेतावनी के बाद गुजरात के तटीय इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया है। यहां ताऊ ते को 17 मई की शाम तक पहुंचने की उम्मीद है। आईएमडी ने 17 मई को ट्वीट कर कहा, ‘चक्रवाती तूफान ताऊ ते ने और विकराल रुप धरण कर लिया है। इसके मद्दे नजर गुजरात और दीव के तटों के लिए चेतावनी जारी की गई है। यहां 100 किलोमीटर तक के क्षेत्र में इसका असर देखा जा सकता है।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here