छत्तीसगढ़: नक्सलियों से मुठभेड़ में 22 जवानों को वीरगति, नौ नक्सली भी ढेर

छत्तीसगढ में नक्सलियों से सुरक्षा बलों की मुठभेड़ हुई है। पिछले पंद्रह दिनों में यह दूसरी कार्रवाई है।

बीजापुर में सुरक्षाबलों के दल पर नक्सली हमला हुआ है। इस हमले में 22 जवान वीरगति को प्राप्त हो गए हैं। हमले में 24 जवान घायल हुए हैं, जिन्हें बीजापुर के अस्पताल ले जाया गया है। सात जवानों को रायपुर भेजा गया है। हुतात्मा हुए जवानों में एक कोब्रा कमांडो का समावेश है।

बस्तर के आईजी पी सुंदरराज के अनुसार लगभग 250 नक्सलियों के दल ने सुरक्षा बलों पर हमला कर दिया था। जिसमें पहले पांच जवानों के हुतात्मा होने की बात कही जा रही थी, जबकि 17 जवान लापता थे। अब जानकारी मिली है कि लापता जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इसी के साथ वीर गति को प्राप्त होने वाले जवानों की संख्या 22 हो गई है। सुरक्षा बलों द्वारा दिए गए उत्तर में नौ नक्सलियों के मारे जाने की सूचना है। इसके अलावा 15 नक्सली घायल हैं।

 केंद्रीय गृह मंत्री ने की मुख्यमंत्री से बात
 सीआरपीएफ के महानिदेशक कुलदीप सिंह ऑपरेशन कार्य और स्थिति का जायजा लेने के लिए छत्तीसगढ़ पहुंचे हैं। इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमति शाह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बात की थी। इसके साथ ही अमित शाह ने असम में अपने चुनाव प्रचार के सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है। वे छत्तीसगढ़ के नक्सली हमले की स्थिति पर विचार करने के लिए दिल्ली पहुंच गए हैं।

ये भी पढ़ें – हरिद्वार कुंभ: यहां भिक्षुक कराते हैं पुलिसवालों को भोजन!

ऐसे हुई मुठभेड़
सुरक्षा बलों को जानकारी मिली थी कि नक्सली नेता हिड़मा के गांव में नक्ललियां का जमावड़ा है। इस सूचना पर कदम उठाते हुए सुरक्षा बल तर्रेम थाना क्षेत्र में पहुंचे थे। जहां हिड़मा के दल के नक्सलियों ने सुरक्षा बलों पर हमला बोल दिया।

प्रधानमंत्री ने किया दुख व्यक्त
पीएम नरेंद्र मोदी ने सुकमा बिजापुर सीमा पर हुए नक्सली हमले पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए वीरगति को प्राप्त जवानों का बलिदान व्यर्थ न जाने का संदेश दिया है।

गृह मंत्री करेंगे परिस्थिति का आंकलन
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी जवानों के बलिदान पर अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने स्थिति का आंकलन कर यथायोग्य कार्रवाई की बात कही है। उन्होंने शांति को भंग करनेवालों के विरुद्ध लड़ाई जारी रखने की बात कही है।

पंद्रह दिनों में तीसरी बड़ी घटना

  • 29 मार्च, 2021 को महाराष्ट्र के गढचिरोली में पांच नक्सलियों को सुरक्षा बलों ने ढेर कर दिया था।
  • 23 मार्च, 2021 को भी छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्ललियों ने सुरक्षा बलों की बस को आईईडी से उड़ा दिया था, जिसमें पांच जवानों का बलिदान गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here