बीएसएफ के बीओपी पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भारत-बांग्लादेश के सीमावर्ती दक्षिण सालमारा-मानकचार जिला अंतर्गत बीएसएफ के मानकचार बीओपी का दौरा किया। इसके अलावा नवगठित तामुलपुर जिला के कलचेनी में बीएसएफ केंद्रीय कार्यशाला और स्टोर (सेनवोस्टो- II) की आधारशिला रखी। .

गृहमंत्री असम के मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा और बीएसएफ के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह के साथ बीएसएफ हेलीकॉप्टर द्वारा भारत-बांग्लादेश अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित 45वीं बटालियन बीएसएफ के तहत मानकचार के बाद बीएसएफ सीमा पर पहुंचे। जहां एडीजी (ईसी) वाईबी खुरानिया ने आईजी गुवाहाटी फ्रंटियर एसएस गहलोत, सेक्टर डीआईजी धुबरी और जिला मजिस्ट्रेट दक्षिण सालमारा की उपस्थिति में उनका स्वागत किया।

ये भी पढ़ें – ताजमहल था शिव मंदिर? भाजपा नेता ने न्यायालय में ठोका दावा, की यह मांग

सुरक्षा चुनौतियों की दी गई जानकारी
केंद्रीय गृहमंत्री को भारत-बांग्लादेश सीमा पर निगरानी चौकी पर वर्तमान सुरक्षा परिदृश्य, उभरती चुनौतियों और इससे निपटने की रणनीति के बारे में जानकारी दी गई। शाह ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) द्वारा संयुक्त रूप से किए गए एक साथ समन्वित गश्त का भी अवलोकन किया। उन्होंने भारत-बीडी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षा परिदृश्य की भी समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए।

बीएसएफ जवानों की तारीफ
गृहमंत्री ने बीएसएफ जवानों से भी बातचीत की और पूरे सेवा और समर्पण के साथ सीमाओं पर मातृभूमि की रक्षा के लिए उनकी तहे दिल से तारीफ की। उन्होंने कहा कि बीएसएफ के जवान चौबीसों घंटे सीमाओं पर सुरक्षा सुनिश्चित कर रहे हैं, इसलिए देश का प्रत्येक नागरिक सुरक्षित महसूस करता है और देश की सुरक्षा के प्रति आश्वस्त रहता है।

बीएसएफ कार्यशाला और स्टोर की आधारशिला
इसके बाद, गृहमंत्री असम के मुख्यमंत्री के साथ कलचेनी, तामुलपुर जिला के लिए रवाना हुए, जहां उन्होंने डॉ. सरमा की उपस्थिति में बीएसएफ केंद्रीय कार्यशाला और स्टोर (सेनवोस्टो-।।) की आधारशिला रखी। इस मौके पर असम सरकार के मंत्री यूजी ब्रह्म और बीटीसी के सीईएम प्रमोद बोडो के साथ गृहमंत्री ने बीएसएफ की भूमिका और सेनवोस्टो के कामकाज को दर्शाते हुए हथियार प्रदर्शनी और फोटो गैलरी भी देखी।

अमित शाह ने वर्चुअल तरीके से सीएपीएफ कैंटीन के लिए खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) परियोजना का भी उद्घाटन किया, जो सभी केंद्रीय पुलिस कैंटीनों (सीपीसी) में केवीआईसी उत्पादों की बिक्री की सुविधा प्रदान करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here