विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाएगी भाजपा! जानिये, क्या है पूरा मामला

28 नवंबर को भाजपा ने राज्य विधानसभा में कार्यवाही स्थगन प्रस्ताव रखा था। इस प्रस्ताव में भाजपा ने अवैध तरीके से नियुक्त शिक्षकों की नौकरी बहाल रखने संबंधी मंत्रिमंडल के फैसले को लेकर चर्चा की मांग की थी।

भारतीय जनता पार्टी पश्चिम बंगाल विधानसभा के अध्यक्ष विमान बनर्जी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने जा रही है। यह जानकारी वरिष्ठ विधायक और नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने सोमवार को दी।

अधिकारी ने आरोप लगाया कि विधानसभा में अध्यक्ष के पद पर होने के बावजूद विमान बनर्जी पक्षपात कर रहे हैं। वे तृणमूल कांग्रेस के एक नेता के तौर पर बर्ताव करते हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को अपनी बात तक नहीं रखने दी जाती है। अधिकारी ने कहा कि भाजपा विधायक भी जनप्रतिनिधि हैं और उन्हें चुना गया है। लोगों के हक की बात कहने से उन्हें रोका नहीं जा सकता। आज तक विधानसभा में ऐसा कभी नहीं हुआ कि हमें अपनी बात कहने दी गई। शुभेन्दु ने कहा कि यह पूरी तरह से अन्याय है और इसीलिए अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि प्रस्ताव कब लाया जाएगा। शुभेंदु ने कहा कि भाजपा विधायक दल इस पर जल्द फैसला लेगा।

यह है मामला
दरअसल, 28 नवंबर को भाजपा ने राज्य विधानसभा में कार्यवाही स्थगन प्रस्ताव रखा था। इस प्रस्ताव में भाजपा ने अवैध तरीके से नियुक्त शिक्षकों की नौकरी बहाल रखने संबंधी मंत्रिमंडल के फैसले को लेकर चर्चा की मांग की थी। इस पर अध्यक्ष विमान बनर्जी ने सहमति नहीं दी, जिसके बाद भाजपा के सदस्यों ने नारेबाजी शुरू कर दी और सदन से वाकआउट कर गए। इस बीच अध्यक्ष विमान बनर्जी ने भाजपा विधायक हिरणमय, चटर्जी गोपाल साहा सहित चार विधायकों को सदन में प्रस्ताव पढ़ने को कहा लेकिन उस समय हालात इतने तनावपूर्ण थे कि भाजपा विधायकों ने इसे पढ़ना उचित नहीं समझा। इस पर अध्यक्ष ने आगामी दो दिन तक किसी भी प्रस्ताव पर भाजपा के इन चारों विधायकों के हस्ताक्षर करने पर रोक लगा दी। यानी इनके हस्ताक्षर मान्य नहीं होंगे। इसी को लेकर शुभेंदु अधिकारी ने स्पष्ट किया कि अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here