बोले योगी ‘इसलिए दीदी की छुट्टी!’

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि इस बार पश्चिम बंगाल में पूर्ण बहुमत से भाजपा की सरकार आना निश्चित है। इसके पीछे उन्होंने कई कारण बताए हैं।

विधानसभा चुनाव को लेकर पिछले काफी समय से पश्चिम बंगाल रणक्षेत्र बना हुआ है। राजनीति के योद्धा एक दूसरे को ललकार रहे हैं और अपनी-अपनी पार्टी के जीत के दावे कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी तृणमूल कांग्रेस पार्टी पर तरह-तरह के आरोप मढ़कर अपनी पार्टी की सरकार आने का दम भर रहे हैं। इस बीच  तीन चरण में  मतदान हो चुके हैं, जबकि पांच चरण अभी भी बाकी है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर दावा किया है कि इस बार पश्चिम बंगाल में पूर्ण बहुमत से भाजपा की सरकार आना निश्चित है।

सीएम योगी का मानना है कि पश्चिम बंगाल की जनता हिसां, अराजकता, भ्रष्टाचार और बेरोजगारी से तंग आ चुकी है और अब वह प्रदेश का विकास तथा कानून का राज चाहती है। उसे मालूम है कि ये सब केवल भाजपा ही दे सकती है। इसलिए इस बार दीदी की छुट्टी तय है। लोग अपने और अपने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए भाजपा को मतदान करेंगे और प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी।

केंद्र की योजनाओं के लाभ से लोगों को रखा वंचित
योगी ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस पार्टी प्रमुख और प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र की एक भी योजना को यहां लागू नहीं होने दिया। इस वजह से प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना, आवास योजना और आयुष्मान भारत योजना के लाभ से यहां के लोग वंचित रह गए। अब जब भाजपा की सरकार आएगी तो ये सभी योजनाएं यहां लागू होंगी और इसका पूरा-पूरा लाभ यहां के लोगों को मिलेगा।

ये भी पढ़ेंः ज्ञानवापी, काशी विश्वनाथ मंदिर का हिस्सा? अब न्यायालय ने दी खुदाई की अनुमति

गौरवशाली इतिहास को किया याद
योगी आदित्यनाथ ने पश्चिम बंगाल के गौरवशाली इतिहास को याद करते हुए कहा कि यह प्रदेश क्रांतिकारियों और वैज्ञानिकों की धरती रही है,अध्यात्म व धर्म को एक नई दिशा देने की धरती रही है, कला और संस्कृति के क्षेत्र में बंगाल ने सराहनीय काम किया है लेकिन वो बंगाल कहां गया, जिस बंगाल को देश इस रुप में स्मरण करता है। आजादी के बाद देश को राष्ट्र गान और राष्ट्र गीत देनेवाला बंगाल आज हिंसा,अराजकता, भ्रष्टाचार का पर्याय बन गया है। कभी बंगाल देश की इकोनॉमी का स्तंभ हुआ करता था, लेकिन आज वह कहां खड़ा है?

बंगाल में यूपी मॉडल की जरुरत
उन्होंने पश्चिम बंगाल की तुलना यूपी से करते हुए कहा कि मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि आजादी के बाद से जितनी जीडीपी यूपी की थी, हमने उसे दुगुनी कर दी है। लोगों की आय बढ़ी है। पहले यूपी की अर्थव्यवस्था देश में छठे- सातवें स्थान पर थी,आज दूसरी अर्थव्यवस्था है। चार साल में 40 लाख लोगों को हमने प्रधानमंत्री गृह योजना के तहत घर दिया है। ढाई लाख गरीबों के घरों में शौचालय  बनवाए और आयुष्मान भारत योजना के तहत लाखों लोगों को स्वास्थय बीमा का लाभ मिल रहा है। किसानों को हमने किसान सम्मान निधि योजना का लाभ दिया।

ये भी पढ़ेंः सीबीआई जांच में दखल नहीं, अनिल देशमुख की याचिका खारिज

ममता से सवाल
सीएम योगी ने कहा कि हमने केंद्र सरकार की योजनाओं को लागू किया इसलिए लोगों को उसका लाभ मिला, बंगाल में नहीं किया गया तो वहां की जनता इन लाभों से वंचित है। हम दीदी से यह पूछना चाहते हैं कि इन योजनाओं को लागू करने में तो कुछ भी नहीं लगना था, फिर भी उन्होंने इन्हें लागू क्यों नहीं किया?

संंभावनाओं का प्रदेश
सीएम योगी ने कहा कि बंगाल में तो काफी संभावनाएं हैं। बर्फीली चोटियां बंगाल में, सुंदर वन बंगाल में,लहलहाते खेत, पर्याप्त जल संसाधन ये सभी हैंं, फिर भी प्रदेश का विकास नहीं हुआ। इसके लिए टीएमसी सरकार जिम्मेदार है और इस सरकार से पहले की वामपंथी सरकार भी जिम्मेदार है। इन्होंने यहां सभी तरह की संभावनाओं को खत्म कर जंगल राज की स्थापना की है। अब यहां भ्रष्टाचार, गुंडागर्दी और आराजकता का राज है, जो विकास की राह में बाधक है। योगी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी विकास और सुव्यवस्था के मुद्दे को लेकर मैदान में है और भाजपा जो कहती है, वो कर के दिखाती है।

ये भी पढ़ेंः टीके पर झिकझिक! ऐसे कैसे हारेगा कोरोना?

धर्म से चिढ़ या दिखावा
योगी ने कहा कि यहां दुर्गा पूजा को रोकने की कोशिश की गई। सरस्वती पूजा को रोकने की कोशिश की गई और दीदी को कभी भगवा से परेशानी होती है तो कभी जय श्री राम से। सीएम ने कहा कि दीदी को जय श्री राम बोलने से पता नहीं क्यों चिढ़ है, जबकि भगवान राम तो भारत की आस्था के प्रतीक हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश में कनेक्टिविटी बढ़ रही है, लेकिन बंगाल में इस दिशा में कुछ भी नहीं हो रहा है। उन्होंने उत्तर प्रदेश के बारे में बोलते हुए कहा कि यूपी में  पिछले 70 साल में जितना हाईवे का निर्माण हुआ था, उससे दुगुने का निर्माण हमने पिछले चार साल में किया है।

न्यायालय करेगा मुख्तार अंसारी का फैसला
गैंगस्टर से बाहुबली नेता बने बसपा विधायक मुख्तार अंसारी के बारे में उन्होंने कहा कि पहले की कांग्रेस और अन्य राजनैतिक पार्टियां अपने फायदे के लिए ऐसे लोगों को छूट देती थी, लेकिन अब हम प्रदेश में कानून का राज स्थापित करने का प्रयास कर रहे हैं। हमने सर्वोच्च न्यायालय के आदेश मिलने के बाद उसे पंजाब की जेल से यूपी लाया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग कह रहे थे कि उसका एनकाउंटर कर दिया जाएगा, तो मैं बता देना चाहता हूं, पुलिस किसी का एनकाउंटर यों ही नहीं करती। वो भी इंसान है। अगर उस पर कोई गोलीबारी करेगा तो वो जबावी कार्रवाई करेगी। फिलहाल अंसारी के खिलाफ कई मामले लंबित हैं, न्यायालय उन पर फैसला करेगा।

सबको न्याय और दोषी को सजा की नीति पर अमल
यूपी के मऊ में आपके काफिले पर मुख्तार अंसारी ने हमला कराया था, क्या आप उसका बदला ले रहे हैं, ये पूछे जाने पर सीएम योगी ने कहा कि मेरा किसी से व्यक्तिगत राग-द्वेश नहीं है। अपराधी केवल अपराधी होता है और उसे सजा मिलनी ही चाहिए। हम सबको न्याय और दोषी को सजा की नीति पर चल रहे हैं।

2022 में जीत का भरोसा
सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत का दावा किया। उन्होंने कहा कि हमारे पास एक साल का समय और है और हमारी कोशिश होगी कि हमने अपने घोषणा पत्र में जो भी वादे किए थे, उन सबको अगले चुनाव से पहले पूरा कर लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here