कनेक्टिविटी के मामले में यूपी की ऊंची उड़ान! पीएम करेंगे देश के सबसे बड़े एयरपोर्ट का शिलान्यास

जेवर हवाई अड्डे का संचालन शुरू हो जाने के बाद दिल्ली-एनसीआर के हवाई यात्रियों को काफी लाभ होगा। इसके साथ ही इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भी दबाव कम होगा।

उत्तर प्रदेश में योगी राज में विकास होता दिख रहा है। कुशीनगर इंटरनेशन एयरपोर्ट के बाद प्रधान मंत्री अब 24 नवंबर को जेवर एयर पोर्ट का शिलान्यास करेंगे। इस हवाई अड्डे की शुरुआत के साथ ही यह प्रदेश देश में पांच अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे वाला देश का प्रथम राज्य बन जाएगा। इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ सरकार ने अयोध्या में भी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को तेजी से विकसित करने का निर्णय लिया है। इससे पहले राज्य में लखनऊ और वाराणसी हवाई अड्डे को ही अंतरराष्ट्रीय पहचान मिल पाई थी।

23 नवंबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जेवर के रुही गांव में तैयारियों का निरीक्षण करने पहुंचे। इस हवाई अड्डे पर कुल चार हेलिपैड और पांच रनवे का निर्माण किया जाएगा।

इन क्षेत्र के लोगों को लाभ
इसका संचालन शुरू हो जाने के बाद दिल्ली-एनसीआर के हवाई यात्रियों को काफी लाभ होगा। इसके साथ ही इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भी दबाव कम होगा। तीन हजार एकड़ में बन रहे जेवर हवाई अड्डे के निर्माण से इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में यूपी एक बड़ा कीर्तिमान स्थापित करेगा। एक्सप्रेस वे राज्य कहलाने वाला यह प्रदेश इन्फ्रास्ट्रक्टचर के मामले में काफी तेजी से आगे बढ़ा है।

ये भी पढ़ेंः जानिये, यहां के हिंदू क्यों कर रहे हैं अपने क्षेत्र में डिस्टर्ब एरिया एक्ट को कड़ाई से लागू करने की मांग!

  • विशेषताएं
  • जेवर में बन रहे हवाई अड्डे का नाम नोएडा इंटरनेशन एयरपोर्ट होगा
  • यह इंदिरा गांधी हवाई अड्डे से 72 किमी दूर होगा
  • नोएडा से इसकी दूरी 40 किमी होगी
  • 3,000 एकड़ में बन रहा यह हवाई अड्डा देश में सबसे बड़ा होगा
  • 29,560 करोड़ की आएगी लागत
  • टर्मिनल भवन की वास्तुकला में दिखेगी विरासत की झलक
  • नोएडा, आगरा, मथुरा समेत प्रदेश के कई जिलों के लोग इस सुविधा का ले सकेंगे लाभ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here