यूपी कैबिनेट में सोलर एनर्जी और टूरिज्म पॉलिसी सहित इन 24 प्रस्तावों पर लगी मुहर

प्रदेश में नई सोलर एनर्जी पॉलिसी पास हुई है। अगले पांच वर्षों में 22 हजार मेगावाट बिजली सोलर एनर्जी से उत्पादित करने का लक्ष्य रखा गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में 16 नवंबर को यहां लोक भवन में आयोजित कैबिनेट बैठक में कुल 24 प्रस्ताव पास हुए। बैठक में 24 प्रस्ताव रखे गए थे और सभी पर कैबिनेट की मुहर लग गई। इनमें प्रमुख रूप से सोलर एनर्जी 2022, टूरिज्म पॉलिसी 2022 और इलेक्ट्रिक पॉलिसी में संशोधन से जुड़ा प्रस्ताव शामिल है। इसके अलावा राज्य विधानमंडल का शीतकालीन सत्र 05 दिसम्बर से शुरू करने का निर्णय लिया गया है, जो सम्भवतः तीन दिन का होगा।

ये भी पढ़ें – रणरागिनी’ का यलगार, लव जिहादी आफताब को फांसी पर लटकाएं!

संसदीय कार्य एवं वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया कि प्रदेश में नई सोलर एनर्जी पॉलिसी पास हुई है। अगले पांच वर्षों में 22 हजार मेगावाट बिजली सोलर एनर्जी से उत्पादित करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके अलावा दो निजी विश्वविद्यालयों के आशय पत्र जारी किए जाने के संबंध में भी प्रस्ताव पास हुए हैं। इसमें एचआर आईटी विश्वविद्यालय गाजियाबाद और महावीर विश्वविद्यालय मेरठ। इसके अलावा पीजीआई मेडिकल वार्ड में 12 नए वार्ड स्थापित करने के प्रस्ताव को हरी झंडी मिली है। इसी तरह उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल की तीन वाहिनी के वाहनों की व्यवस्था की गयी है जिसमें 244 नए वाहन क्रय किये जाएंगे और पुराने वाहनों को नीलाम किया जाएगा। संसदीय कार्यमंत्री ने बताया कि अयोध्या समेत 16 नगर निगमों को सोलर सिटी के रूप में विकसित किये जाने का निर्णय लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here