दशहरा रैली: छत्रपति शिवाजी पार्क में ठाकरे ही गरजेंगे, बॉम्बे उच्च न्यायालय से अनुमति

बॉम्बे उच्च न्यायालय ने शिवसेना की दशहरा रैली के लिए दायर याचिका पर निर्णय सुना दिया है। न्यायालय के आदेशों के अनुसार अब उद्धव ठाकरे गुट को छत्रपति शिवाजी पार्क में दशहरा रैली की अनुमति दी गई है। अब 5 अक्टूबर को दशहरा के दिन छत्रपति शिवाजी पार्क में ठाकरे की तोप ही गरजेगी।

शिवसेना वर्षों से छत्रपति शिवाजी पार्क में दशहरा के दिन रैली करती रही है। इस परंपरा के अधीन इस वर्ष भी शिवसेना की ओर से मुंबई महानगर पालिका में अनुमति मांगी गई थी। परंतु, इसमें पेंच शिवसेना में पड़ी फूट ने खड़ा कर दिया था। इस वर्ष एक अनुमति पत्र शिवसेना के टाकरे गुट ने मनपा के पास लिखा था, तो दूसरा पत्र शिवसेना एकनाथ शिंदे गुट के विधायक सदा सरवणकर ने किया था।

असमंजस में मनपा
शिवसेना के दो धड़ों से मांग गई अनुमति के बाद मुंबई मनपा असमंजस की स्थिति में आ गई थी। परंतु, सबसे पहले अनुमति की मांग ठाकरे गुट ने की थी, उनकी ओर से 22 अगस्त, 2022 और 26 अगस्त 2022 को जबकि, एकनाथ शिंदे की ओर से 30 अगस्त, 2022 को पत्र दिया गया था। इसको लेकर मुंबई मनपा ने पुलिस से राय मांगी थी। जिस पर दादर पुलिस की ओर से गणपति विसर्जन के दिन शिवसेना के दो गुटों में हुई झड़प के आधार पर कानून व्यवस्था के लिए गंभीर खतरा उत्पन्न होने की आशंका व्यक्त की गई थी। इसी आधार पर मुंबई मनपा ने शिवसेना के दोनों पक्षों की याचिका को अस्वीकार कर दिया था।

ठाकरे गुट पहुंचा उच्च न्यायालय
मुंबई मनपा द्वारा रैली की अनुमति नकारे जाने के बाद उद्धव ठाकरे के गुट ने बॉम्बे उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर दी थी। इसमें मनपा के आदेश को चुनौती दी गई थी। इसके बाद एकनाथ शिंदे गुट की ओर से याचिका कर्ता सदा सरवणकर भी बॉम्बे हाइकोर्ट पहुंचे। परंतु, उच्च न्यायालय ने एकनाथ शिंदे गुट की याचिका को अस्वीकार कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here