मंत्रिमंडल विस्तारः ये हैं संभावित नए चेहरे!

केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार के इस प्रथम चरण में 24 से अधिक जनप्रतिनिधयों को मंत्री बनाए जाने की संभावाना है। इसे लेकर राजनीति के साथ ही देश के बुद्धिजीवियों में भी काफी उत्सुकता है।

आज केंद्रीय मंत्रिमंडल का बहुप्रतीक्षित विस्तार होने जा रहा है। मंत्रिमंडल विस्तार के इस प्रथम चरण में 24 से अधिक जनप्रतिनिधयों को मंत्री बनाए जाने की संभावाना है। इसे लेकर राजनीति के साथ ही देश के बुद्धिजीवियों में भी काफी उत्सुकता है। हालांकि अभी तक मंत्री बनाए जाने के लिए नेताओं के नामों पर अंतिम मुहर नहीं लगी है, लेकिन संभावित मंत्रियों के नामों पर चर्चा चरम पर है। आज शाम छह बजे दिल्ली में इन्हें मत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी।

संभावित मंत्रियों की सूची
फिलहाल संभावित मंत्रियों में ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बानंद सोनेवाल, पशुपति नाथ पारस, नारायण राणे, भूपेंद्र यादव, अनुप्रिया पटेल,कपिल पाटिल,मीनाक्षी लेखी ,राहुल कस्वां ,अश्विनी वैष्णव,शांतनु ठाकुर, विनोद सोनकर, पंकज चौधरी, आरसीपी सिंह, दिलेश्वर कामत, चंद्रेश्वर प्रसाद, रामनाथ ठाकुर ,राजकुमार रंजन, बी एल वर्मा, हिना गावित, अजय मिश्रा,शोभा करंदलाजे, अजय भट्ट, प्रीतम मुंडे के नाम शामिल हैं।

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्र से राणे और हीना गावित को केंद्रीय मंत्रिमंडल में मिल सकती है जगह! ये हैं कारण

इन मंत्रियों ने दिया त्याग पत्र
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल के पहले विस्तार से कुछ घंटे पूर्व कई मंत्रियों ने त्यागपत्र दे दिया है। उनमें थावरचंद गहलोत समेत कई ऐसे नेताओं के नाम हैं, जो सरकार के बड़े चेहरे माने जाते थे। इन मंत्रियों के विभागों का कार्य नए मंत्रियों में बांटा जाएगा। केंद्र सरकार से जिन केंद्रीय मंत्रियों ने इस्तीफा दिया है, उनमें डॉ. हर्षवर्धन, थावरचंद गहलोत, सदानंद गौड़ा, देबोश्री चौधरी, संतोष गंगवार, रमेश पोखरियाल निशंक, संजय धोत्रे, रावसाहेब दानवे शामिल हैं। मंत्रिमंडल विस्तार में जनता दल युनाइटेड, अपना दल, लोक जनशक्ति पार्टी के शामिल होने की सूचना है, इसके लिए कई विभागों की आवश्यकता होगी। माना जा रहा है कि जिन मंत्रियों के कार्यों की प्रगति पुस्तिका में कुछ कमियां देखी गई हैं, उन्हें त्याग पत्र देना पड़ा है।

ये भी पढ़ेंः शपथ के पहले केंद्रीय मंत्रीमंडल से त्यागपत्र की शुरुआत… इनका गया मंत्री पद

खास बातें

  • 17 से 22 नए चेहरों को कैबिनेट मंत्री बनाया जा सकता है।
  •  नए सहकारिता मंत्रालय के गठन की संभावना है।
  • केंद्रीय कैबिनेट में मनसुख मंडविया, हरदीप सिंह पुरी, आरके सिंह का प्रमोशन हो सकता है।
  • अनुराग ठाकुर को प्रमोट कर किसी विभाग में स्वतंत्र प्रभार दिया जा सकता है।
  • उनकी जगह अश्विनी वैष्णव को वित्त राज्य मंत्री बनाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here