पवार की देवेंद्र स्तुति, बताया महाराष्ट्र सरकार है कितनी सुरक्षित?

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि राज्यसभा चुनाव परिणाम का महाराष्ट्र सरकार पर कोई असर नहीं होगा। उन्होंने कहा कि राज्यसभा की छठवीं सीट के लिए हमारे पास संख्याबल कम था, फिर भी कुछ निर्दलीय विधायकों को देवेंद्र फडणवीस अपने खेमे में ले जाने में सफल हुए। यह चुनाव आम जनता का नहीं होता। इसलिए इसे जनभावना से जोड़ना गलत है।

ये भी पढ़ें – महाराष्ट्र राज्यसभा निर्वाचन में तीसरी जीत भी भाजपा की ही, देर रात ऐसे हुआ राजनीतिक पटाक्षेप 

शरद पवार ने कहा कि इस चुनाव में संख्याबल न रहते हुए भी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने उम्मीदवार देने का रिस्क लिया और उस उम्मीदवार को भी 33 वोट मिले। राजनीति में इस तरह का रिस्क लेना पड़ता है। इस चुनाव में महाविकास आघाड़ी के सहयोगी दल शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा के वोट नहीं फूटे हैं। हमारे कुछ लोगों को अपने खेमे में करने में विपक्ष सफल रहा है। शरद पवार ने कहा कि वो कौन लोग हैं, यह हम जानते हैं। भाजपा के एक विधायक ने राकांपा उम्मीदवार प्रफुल्ल पटेल को मत दिया है। राज्यसभा चुनाव में तीन विधायकों के मतदान को रद्द करने का भी प्रयास किया गया, लेकिन चुनाव आयोग ने दो विधायकों का मतदान वैध किया। एक विधायक का मतदान रद्द क्यों किया गया, यह उनकी समझ में नहीं आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here