पूछा वीर सावरकर पर विवादास्पद टिप्पणी पर सवाल, संजय राऊत ने दोहराई भारत रत्न देने की मांग

वीर सावरकर को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा की जा रही टिप्पणियों पर शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेताओं ने चुप्पी साधी हुई है।

शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) के नेता संजय राऊत ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर और शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे को भारत रत्न दिया जाना चाहिए। वीर सावरकर हिंदुत्व के कट्टर समर्थक थे, उनके बाद बालासाहेब ठाकरे ने वीर सावरकर के विचारों को देश में जन-जन तक पहुंचाया। इसलिए केंद्र सरकार को इन दोनों नेताओं को भारत रत्न पुरस्कार देने का निर्णय लेना चाहिए। हालांकि, कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा वीर सावरकर पर की गई टिप्पणी पर वे कुछ नहीं बोले।

विरोधियों पर प्रहार
संजय राऊत ने कहा कि 17 नवंबर को बालासाहेब ठाकरे का 10 वां स्मृति दिन है, आज भी वे हमारे बीच हैं। उनके विचारों को शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे ) आगे बढ़ा रही है। शिवसेना पर पिछले 50 सालों से हमले किए जा रहे हैं। बालासाहेब जीवित थे, उस समय भी उनपर हमले होते थे। बालासाहेब जितने अच्छे चित्रकार थे, उतनी ही उन्हें देश की समझ थी। वे हर हमले का सामना करने में सक्षम रहते थे। बालासाहेब ठाकरे को ढोंग बिल्कुल पसंद नहीं था। आज बहुत से ढोंगी बालासाहेब का नाम लेकर गलत काम कर रहे हैं, अगर बालासाहेब ठाकरे जीवित रहते तो ऐसे लोगों की अच्छी तरह से खबर लेते। आज बालासाहेब जैसा सूझबूझ वाला देश में नहीं है।

ये भी पढ़ें – रणजीत सावरकर ने नेहरू के कुकर्मों को प्रमाण सहित किया उजागर

संजय राऊत ने यह भी कहा कि आज वीर सावरकर के नाम पर ढोंग हो रहा है। वीर सावरकर जैसा हिंदुत्ववादी नेता कोई और नहीं हो सकता। संजय राऊत ने कहा कि वीर सावरकर के नाम पर राजनीति करने की बजाय केंद्र सरकार को तत्काल वीर सावरकर को भारत रत्न पुरस्कार से सम्मानित करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here