अनलॉक होगा महाराष्ट्र? ‘साहब’ ने बुलाई बैठक

महाराष्ट्र के अधिकांश मंत्रियों ने प्रतिबंधों में ढील देने की मांग की है। समझा जा रहा है कि 1 अगस्त से प्रदेश में प्रतिबंधों में ढील दी जा सकती है।

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण तेजी से कम हो रहा है। इसे देखते हुए प्रदेश की महाविकास आघाड़ी सरकार ने लागू पाबंदियों में 1 अगस्त से ढील देने का निर्णय लिया है। कैबिनेट की बैठक में काफी विचार-विमर्श के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने टास्क फोर्स कमेटी की बैठक बुलाई है। समझा जा रहा है कि बैठक में राज्य में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की जाएगी और पाबंदियों में ढील देने का फैसला किया जाएगा। दुकानों के समय बढ़ाने के साथ ही मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल में भी आम आदमी को यात्रा करने की मंजूरी देने के बारे में निर्णय लिया जाएगा।

देश में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से कमी आ रही है। इसे देखते हुए दिल्ली और कर्नाटक जैसे राज्यों ने प्रतिबंधों में ढील दी है। महाराष्ट्र के अधिकांश मंत्रियों ने भी प्रतिबंधों में ढील देने की मांग की है। समझा जा रहा है कि 1 अगस्त से प्रदेश में प्रतिबंधों में ढील दी जा सकती है।

पाबंदियों में दी सकती है ढील
वर्तमान में दुकानों को शाम चार बजे तक खुला रखने की अनुमति है। उसे शाम 7 बजे तक बढ़ाए जाने की संभावना है। कोरोना मरीजों की अधिक संख्या वाले जिलों को छोड़कर अन्य जगहों पर पाबंदियों में ढील दी जाएगी। इसी क्रम में मुंबई लोकल ट्रेनों में वैक्सीन के दोनों डोज लेने वालों को यात्रा की अनुमति दिए जाने पर भी विचार किया जा रहा है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे टास्क फोर्स कमेटी और चिकित्सा विशेषज्ञों के साथ चर्चा करने के बाद इस संबंध में अंतिम निर्णय लेंगे।

लोकल ट्रेनों में यात्रा की अनुमति मिलने की संभावना कम
कैबिनेट की बैठक में राज्य में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की गई। अब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने टास्क फोर्स कमेटी की बैठक बुलाई है। उसके बाद प्रतिबंधों में ढील देने के बारे में निर्णय लिया जाएगा। नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि लोकल ट्रेन में आम मुंबईकरों को यात्रा करने की अनुमति दिए जाने की संभावना कम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here