राज्यसभा के उम्मीदवार बनाए जाने पर खुश हुए आरसीपी, नीतीश कुमार और जेडीयू के लिए कही ये बात

राज्यसभा नॉमिनेशन में शामिल होने की बात को लेकर आरसीपी ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री बुलाएंगे तो राज्यसभा नॉमिनेशन में वे शामिल होंगे।

राज्यसभा चुनाव में टिकट मिलने से वंचित हुए केन्द्रीय मंत्री रामचंद्र प्रसाद सिंह (आरसीपी) ने उन्हें पहले मौका दिये जाने पर मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया है। राज्यसभा का टिकट नहीं मिलने के बाद पहली बार मीडिया के समाने आये आरसीपी सिंह ने कहा कि जदयू की ओर से जो भी फैसला लिया गया है, उससे पार्टी को मजबूती मिलेगी।

आरसीपी सिंह ने कहा कि 2010 से मैं संगठन में काम कर रहा हूं। आज पार्टी बूथ स्तर तक पहुंची है, जो संगठन के लिए बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि मैंने आज तक नीतीश कुमार के परामर्श से सभी निर्णय लिए हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें हमसे कोई नाराजगी नहीं है। मैंने आजतक ऐसा कोई काम नहीं किया है, जिससे मेरे ऊपर सवाल उठाया जा सके।

ये भी पढ़ें – संघ लोक सेवा आयोग के परिणाम घोषित, शीर्ष तीन पर लड़कियों का बोलबाला

केंद्रीय मंत्री बनाए जाने पर कहाः
केंद्रीय मंत्री बनाये रखे जाने पर उन्होंने कहा कि मंत्री बनाये रखना या न रखना प्रधानमंत्री का अधिकार है। प्रधानमंत्री कभी भी इस्तीफा मांग सकते हैं। अगर प्रधानमंत्री कहेंगे इस्तीफा देने को तो इस्तीफा दे देंगे। आरसीपी सिंह ने कहा कि वे शुरू से ही पार्टी को संगठनात्मक स्तर पर मजबूत करने के लिए काम कर रहे हैं। अब एक बार फिर से पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करेंगे। वे पार्टी में हैं, आगे भी पार्टी में बने रहेंगे।

राज्यसभा नॉमिनेशन में शामिल होने की बात को लेकर आरसीपी ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री बुलाएंगे तो राज्यसभा नॉमिनेशन में वे शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here