ठिठुरा राजस्थान… सर्द हवाओं की चपेट में पसरी शीतलहरी

राजस्थान में शीतलहर का प्रकोप चरम पर है।

उत्तरी सर्द हवाओं की चपेट में आने से राजस्थान में अब जीवन जमने लगा है। राजस्थान में बीती रात प्रदेश में इस सीजन की सबसे ठंडी रात रही। शीतलहर चलने और गलनभरी सर्दी के कारण चूरू, माउंट आबू, फतेहपुर, जयपुर के जोबनेर में पारा माइनस में चला गया। इस साल पहली बार ऐसा हुआ है, जब फतेहपुर के अलावा अन्य तीन और जगहों पर पारा जीरो से नीचे चला गया। शेखावाटी अंचल, हिल स्टेशन माउंट आबू, जयपुर समेत कई जगह खुले इलाकों में बर्फ जम गई। शुक्रवार रात सबसे कम तापमान फतेहपुर में माइनस 3.8 दर्ज हुआ।

ये भी पढ़ें – वो कहानी सियासी थी! आंदोलन के नाम भारतीय किसान यूनियन का ऐसा था खेल

बीती रात चूरू में -1.1, जयपुर के जोबनेर में -2, माउंट आबू में -3 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा। माउंट आबू में पहली बार ऐसा हुआ जब पारा 0 से माइनस 3 में 24 घंटे के अंतराल में चला गया। इस कारण आबू में सुबह 9 बजे तक मैदानों में बर्फ जमी रही। आबू में अमूमन पारा 0 के बाद एक-एक डिग्री की गिरावट के साथ माइनस में जाता है। इसके अलावा सीकर, हनुमानगढ़, नागौर, भीलवाड़ा में तापमान 0 से 1 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज हुआ। समूचे प्रदेश में बीती रात हाड़ कंपाने वाली ठंड रही। पूरा प्रदेश उत्तरी सर्द हवाओं की चपेट में आ गया। खेतों और खुले मैदानों में बर्फ जम गई। जयपुर के जोबनेर में खेतों में सिंचाई के लिए लगे पानी के पाइपों में से पानी की जगह बर्फ के टुकड़े निकले। सीकर के फतेहपुर शेखावाटी में घरों के बाहर खुले में बर्तनों में रखा पानी जम गया। पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू के मैदानों में और नक्की झील के किनारे बर्फ की परत जम गई।

राज्य में बीते 24 घंटे के दौरान कई शहरों में न्यूनतम तापमान 1 से लेकर 8 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आया है। सबसे बड़ी गिरावट भीलवाड़ा में 8.6 डिग्री की हुई। कल भीलवाड़ा में न्यूनतम तापमान 9.6 था, जो गिरकर आज 1 पर पहुंच गया। इसी तरह जयपुर में भी पारा 7 डिग्री सेल्सियस लुढक गया। वहीं हाड़ौती के कोटा, बूंदी, बारां और मेवाड़ के उदयपुर में न्यूनतम तापमान में 5 से लेकर 7 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हुई। प्रदेश के फतेहपुर में -3.8, माउंट आबू में -3, जोबनेर (जयपुर) में -2, चूरू में -1.1, नागौर में 0.3, हनुमानगढ़ में 0.7, सीकर में 0.7, भीलवाड़ा में 1 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा। बीती रात श्रीगंगानगर में 1.1, पिलानी में 1.9, अलवर में 2.1, चित्तौड़गढ़ में 2.7, वनस्थली (टोंक) में 2.9, सवाई माधोपुर में 3.5, बारां में 3.1, बीकानेर में 4.4, उदयपुर में 4.8, जयपुर में 4.9, कोटा में 5.5, बूंदी में 5.6, जैसलमेर में 5.9, जालोर में 6.4, सिरोही में 6.5, जोधपुर में 6.9, अजमेर में 7.4 तथा बाड़मेर में 7.9 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा।

जयपुर मौसम केंद्र ने कड़ाके की सर्दी का असर अगले 3 दिन और बना रहने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने 19 दिसंबर को श्रीगंगानगर, चूरू, बीकानेर, हनुमानगढ़, नागौर, अलवर, जैसलमेर, पाली, जोधपुर, झुंझुनूं, सीकर, टोंक, जयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में मौसम विभाग ने तेज सर्दी पड़ने और शीतलहर चलने की आशंका जताई है। वहीं 20 व 21 दिसंबर को भी इन शहरों में सर्द हवाएं चलने और तापमान कम रहने की चेतावनी जारी करते हुए यलो अलर्ट जारी किया है। 21 दिसंबर को बाद से मौसम में मामूली बदलाव देखने को मिलेगा और तापमान बढ़ने लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here