सेना को सर्वोपरि मानते हैं? तो एक उपमुख्यमंत्री का ये आरोप आपको झकझोर देगा

पंजाब के राजनीतिक उठापटक का शिकार सेना को बनाए जाने की घटना सामने आ रही है।

बीएसएफ के कार्यक्षेत्र को लेकर केंद्र सरकार के फैसले पर बवाल मचा हुआ है। इस बीच पंजाब के उपममुख्यमंत्री ने बीएसएफ पर बहुत बड़ा आरोप मढ़ दिया है। उन्होंने दुश्मन देश से साठगांठ का आरोप जड़ा है, वह भी पूर्व मुख्यमंत्री के नाम पर।

पंजाब में कांग्रेस के अंदर विद्रोह मचा हुआ है। कैप्टन अमरिंदर की राजशाही समाप्त हो गई है, चरणजीत चन्नी के हाथ राज्य की कमान है और नवजोत सिंह सिद्धू भी विद्रोह के बाद अब बैकफुट पर हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह के विरुद्ध कांग्रेस पार्टी की लड़ाई में उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की निष्ठा पर ही प्रश्न खड़ा कर दिया है।

आपस की मार… सेना पर वार
बीएसएफ के कार्यक्षेत्र को बढ़ाने को लेकर केंद्र सरकार के विरुद्ध राज्य सरकार न मोर्चा खोला हुआ है। इस बीच लड़ता पंजाब में सेना की निष्ठा पर भी प्रश्न खड़ा कर दिया है, उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कैप्टन पर हमला करते हुए कहा है कि, 2016 में कैप्टन अमिरंदर सिंह ने एक समाचार पत्र से कहा था कि, बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच एक गठजोड़ है, जिसे तोड़ना चाहिए। उन्हें पहले इसका उत्तर देना चाहिए।

क्या है कारण
कैप्टन अमरिंदर कांग्रेस हाइकमान से नाराज हैं। वे विभिन्न निर्णयों पर स्वतंत्र रूप से खुलकर बोल रहे हैं, ऐसे में उन्होंने बीएसएफ का कार्यक्षेत्र बढ़ाने के निर्णय का समर्थन किया है। जिसके बाद लड़ता पंजाब से उपमुख्यमंत्री के बोल आपसी कलह में बिगड़ गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here