कैप्टन की तकरार, ‘मैडम’ का प्यार! जानें, अमरिंदर के घर की महाभारत

कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी परनीत कौर ने अपने पति के फैसले का समर्थन किया है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के कुछ नेताओं ने उनका अपमान किया।

पंजाब में चल रहे राजनैतिक बवाल के बीच एक अहम खबर आई है। कैप्टन अमरिंदर सिंह की पत्नी कांग्रेस सांसद परनीत कौर ने पार्टी छोड़ने से इनकार कर दिया है। परनीत कौर ने कहा, ‘मैं कांग्रेस नहीं छोड़ूंगी।’ उनका यह बयान इस परिदृश्य में काफी महत्वपूर्ण है कि कैप्टन अपनी नई पार्टी स्थापित कर सकते हैं।

कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे के बाद कहा जा रहा था कि उनकी पत्नी परनीत कौर उनके नक्शेकदम पर चलेंगी। लेकिन परनीत कौर ने अब खुद इस बारे में अपना पक्ष स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘मैं कांग्रेस पार्टी के साथ रहूंगी। मैं कांग्रेस की सांसद हूं और मैं उस पद पर बनी रहूंगी।’

भविष्य की योजनाओं का खुलासा नहीं
परनीत कौर ने कहा कि फिलहाल उनका कांग्रेस छोड़ने का कोई इरादा नहीं है। हालांकि उन्होंने अपने भविष्य की योजनाओं के बारे में बात करने से परहेज करते हुए कहा, “मैं अपने भविष्य की योजनाओं के बारे में बात नहीं करूंगी। लेकिन वर्तमान में पंजाब कांग्रेस में जो कुछ हो रहा है, उससे हर कार्यकर्ता दुखी है।” परनीत कौर जिस सीट से सांसद चुनी गई हैं, अमरिंदर सिंह उसी लोकसभा क्षेत्र के नौ विधानसभा क्षेत्रों में से एक, पाटिया शहर निर्वाचन क्षेत्र से विधायक चुने गए हैं। इन नौ निर्वाचन क्षेत्रों में से सात में कांग्रेस के विधायक हैं।

ये भी पढ़ेंः कैप्टन बनाएंगे अपनी पार्टी या फिर करेंगे ऐसा! जानें, उनके मन की बात

कैप्टन के कदम का समर्थन
इस बीच परनीत कौर ने अपने पति कैप्टन अमरिंदर सिंह के फैसले का समर्थन किया है। परनीत कौर ने दावा किया कि कांग्रेस के कुछ नेताओं ने कैप्टन का अपमान किया। उन्होंने कहा, ‘वे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। जब एक के बाद एक राज्यों में कांग्रेस हार रही थी, तो उन्होंने पंजाब में कांग्रेस को फिर से सत्ता में लाया। लेकिन अब उनका अपमान किया जा रहा है। इसलिए उन्होंने कांग्रेस पार्टी छोड़ने का फैसला किया। पार्टी के लिए ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाले नेता के साथ इस तरह व्यवहार करना गलत है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here