राकेश टिकैत पर स्याही फेंकने का विरोध, कार्यकर्ताओं ने रखी बड़ी मांग

भाकियू नेता विनोद जिटोली ने कहा कि राकेश टिकैत पर स्याही फेंकने वालों पर कार्रवाई नहीं होने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

कर्नाटक में भाकियू नेता राकेश टिकैत पर स्याही फेंकने के विरोध में 31 मई को कार्यकर्ताओं ने पश्चिम उत्तर प्रदेश में सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया। भाकियू कार्यकर्ताओं ने राकेश टिकैत को जेड प्लस सुरक्षा देने की मांग की।

भाकियू कार्यकर्ताओं ने 31 मई को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करके कर्नाटक में राकेश टिकैत के ऊपर स्याही फेंकने का विरोध किया। कार्यकर्ताओं ने कहा कि भाकियू नेता को जेड प्लस सुरक्षा दी जाए। अगर उन्हें सुरक्षा नहीं मिली तो किसान सड़कों पर उतरकर आंदोलन करेंगे। जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर भाकियू नेता को सुरक्षा देने की मांग की।

ये भी पढ़ें – अनिल देशमुख को सर्वोच्च राहत, अब कर सकेंगे ऐसा!

भाकियू नेता विनोद जिटोली ने कहा कि राकेश टिकैत पर स्याही फेंकने वालों पर कार्रवाई नहीं होने पर उग्र आंदोलन किया जाएगा। न्याय नहीं मिलने पर सभी की नाक में दम कर देंगे। राकेश टिकैत के साथ हुई घटना सरकार द्वारा प्रायोजित थी। किसान जिन दिन अपनी पर आएंगे तो उस दिन सरकारी कारिंदों को सड़कों पर निकलने नहीं देंगे।

भाकियू कार्यकर्ताओं ने कहा कि अगर किसान नेताओं के साथ ऐसा होता रहा तो किसानों के सब्र का बांध टूट जाएगा। किसान विरोधी सरकार नहीं चलने दी जाएगी। 13 महीने तक किसान सड़क पर आंदोलन करते रहे। इसके बाद कृषि कानून वापस लिए गए। इस अवसर पर अनुराग चौधरी, संजय चौधरी, अमन सिंह, विजय बालियान आदि उपस्थित रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here