#पीएम के हाथों शुरू हुईं #रेलवे की पांच परियोजनाएं, ममता बनर्जी ने किया ये दावा

पीएम मोदी ने 30 दिसंबर को वर्चुअल जरिए से पूर्वी भारत की पहली वंदे भारत ट्रेन समेत रेलवे की पांच परियोजनाओं को हरी झंडी दिखाई।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 30 दिसंबर को वर्चुअल जरिए से पूर्वी भारत की पहली वंदे भारत ट्रेन समेत रेलवे की पांच परियोजनाओं को हरी झंडी दिखाई है। उसके पहले यहां संबोधन करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया कि इनमें से चार परियोजनाएं उनके द्वारा शुरू की गई हैं।

पीएम मोदी की मां के निधन को लेकर दुख व्यक्त करने के बाद ममता बनर्जी ने संबोधन करते हुए यह भी कहा कि रेलवे के बंदे भारत परियोजना के अलावा जो बाकी चार परियोजनाएं हैं, उनके लिए बजट का आवंटन भी उन्होंने किया था। खास तौर पर जोका-तारातला मेट्रो लाइन का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि आज मेरे लिए बहुत खुशी का दिन है क्योंकि जब मैं रेल मंत्री थी, तब मैंने इसका शिलान्यास किया था। उस समय इस मेट्रो की आधारशिला रखने के लिए तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल को भी मैंने आमंत्रित किया था।

कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी की प्रशंसा
उसके बाद अपनी पार्टी के पूर्व नेता और बीच में ममता से दूर हो चुके कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी के नाम का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि उन्होंने जोका में मेट्रो के लिए जमीन तलाशने और उसे रेलवे को सौंपने में बड़ी भूमिका निभाई। उसके बाद तारातला में भी मेट्रो स्टेशन के लिए जमीन की व्यवस्था करने के लिए उन्होंने अपनी सरकार के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम का जिक्र किया। ममता ने कहा कि वर्ष 2009-10 में इन परियोजनाओं की शुरुआत हुई जिसके बाद वह लगातार अपनी सरकार में इनके काम को पूरा करने के लिए बजट का आवंटन करती रही हैं। ममता ने बेहला वासियों का भी धन्यवाद किया और कहा कि 10 सालों तक मेट्रो के काम की वजह से तमाम परेशानियों के बावजूद उन्होंने धैर्य नहीं खोया।

यह भी पढ़ें – ब्राजील को तीन बार विश्व विजेता बनाने वाले फुटबॉलर पेले का निधन

इसके साथ ही ममता ने कहा कि बैंची-शक्तिगढ़ तीसरी लाइन, डानकुनी-चंदनपुर चौथी लाइन, निमतीता-न्यू फरक्का डबल लाइन की दोहरीकरण परियोजनाओं के लिए भी उनकी सरकार ने लगातार मदद की है ताकि विकास का काम चलता रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here