अपने गांव पहुंचते ही राष्ट्रपति हुए भावुक! फिर किया ऐसा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इन दिनों उत्तर प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर हैं। उनके साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी हैं।

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अपने गांव और वहां के लोगों के प्रति प्रेम और स्नेह का एक उदाहरण देखने को मिला है। चर्चा और विवादों से दूर रहने वाले देश के राष्ट्रपति की इस बात को लेकर काफी चर्चा हो रही है।

दरअस्ल राष्ट्रपति कोविंद इन दिनों उत्तर प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर हैं। उनके साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी हैं। तय कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रपति 27 जून की सुबह सबसे पहले अपने गांव परौंख पहुंचे। यहां उन्होंने हैलीपैड से अपने गांव में उतरते ही अपनी जन्मभूमि की मिट्टी को माथे पर लगाया और नमन किया। उन्हें ऐसा करते देख राज्यपाल भी भावुक हुए बिना नहीं रह सकीं। उन्होंने हाथ जोड़कर धरती माता का नमन किया।

सोशल मीडिया पर हो रही है चर्चा
इससे पहले राष्ट्रपति ने गांव के पथरी देवी मंदिर में दर्शन किए और गांव वालों का अभिनंदन करते हुए सभी को धन्यवाद दिया। राष्ट्रपति की इस भावना की खूब चर्चा हो रही है। चर्चा और विवादों से दूर रहने वाले देश के महामहिम की इस  भावना को लेकर लोग सोशल मीडिया पर उनकी खूब प्रशंसा कर रहे हैं।

ये भी पढ़ेंः जानिये, पीएम के ‘मन की बात’ में क्या है खास?

इन शब्दों में व्यक्त की अपनी भावना
राष्ट्रपति ने अपनी भावना को ट्वीट करते हुए व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा,’जन्मभूमि से जुड़े ऐसे ही आनंद और गौरव को व्यक्त करने के लिए संस्कृत काव्य में कहा गया है- जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी अर्थात जन्म देने वाली माता और जन्मभूमि का गौरव स्वर्ग से भी बढ़कर होता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here