प्रधानमंत्री मोदी ने डेनमार्क की अपनी समकक्ष मेटे फ्रेडरिक्सन से की बातचीत, ये था उद्देश्य

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी तीन दिवसीय यात्रा के दूसरे पड़ाव डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन पहुंचे, जहां एयरपोर्ट पर स्वयं प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन ने उनका स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 3 मई को डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन के साथ उनके आवास पर बातचीत की। कोपेनहेगन में इस बातचीत का उद्देश्य दोस्ती को बढ़ावा देना है।

प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन ने स्वयं प्रधानमंत्री का स्वागत किया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 3 मई को अपनी तीन दिवसीय यात्रा के दूसरे पड़ाव डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन पहुंचे जहां एयरपोर्ट पर स्वयं प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन ने स्वयं उनका स्वागत किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर दी जानकारी
प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर अपनी यात्रा की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वे कोपेनहेगन में उतरे। वह प्रधानमंत्री फ्रेडरिक्सन का गर्मजोशी भरे स्वागत के लिए बहुत आभारी हैं। यह यात्रा भारत-डेनमार्क संबंधों को और मजबूत करने में एक लंबा सफर तय करेगी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि प्रधानमंत्री के स्वागत में एयरपोर्ट पर भारतीय समुदाय मौजूद है।

ये भी पढ़ें – … तो मनसैनिक सड़कों पर उतरेंगे, महाराष्ट्र सरकार रहे तैयार! मनसे ने दी चेतावनी

जर्मनी यात्रा के बाद प्रधानमंत्री 3 मई डेनमार्क द्वारा आयोजित किए जा रहे दूसरे भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। दूसरे भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री अन्य नॉर्डिक देशों के नेताओं – आइसलैंड की प्रधानमंत्री कैटरीन जैकोब्स्दोतिर, नॉर्वे के प्रधानमंत्री जोनास गहर स्टोर, स्वीडन की प्रधानमंत्री मैग्डेलेना एंडरसन और फिनलैंड की प्रधानमंत्री सना मारिन के साथ भी बातचीत करेंगे।

पीएम की पहली यात्रा
प्रधानमंत्री मोदी की यह डेनमार्क की पहली यात्रा है लेकिन डेनमार्क की प्रधानमंत्री के साथ उनकी तीसरी शिखर स्तरीय बातचीत है। चर्चा द्विपक्षीय मुद्दों और वैश्विक व क्षेत्रीय हितों के मुद्दों पर केंद्रित रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here