ओडिशा में उठापटक, पटनायक मंत्रिमंडल का सामूहिक त्यागपत्र

ओडिशा में मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का एक तरफा राज है। उसके पहले उनके पिता बीजू पटनायक राज्य की सत्ता में रहे हैं।

मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने गुजरात मॉडल को अपना लिया है। उनके मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों में अपने त्यागपत्र दे दिये हैं। अब नया मंत्रिमंडल रविवार को 11.45 बजे शपथ लेगा।

शनिवार सुबह तक किसी भी मंत्री के पास मुख्यमंत्री के इस निर्णय की जानकारी नहीं थी। एक के बाद एक मंत्री को मुख्यमंत्री कार्यालय से फोन कर त्यागपत्र देने को कहा गया। हालांकि, इस तरह की सूचना मिल रही थी कि मुख्यमंत्री ने कुछ मंत्रियों को पद से हटाने का निर्णय किया है। सूत्रों के अनुसार जो लोग कल मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले हैं, उनके पास भी फोन गए हैं तथा उन्हें तत्काल भुवनेश्वर पहुंचने के लिए कहा गया है। रविवार दोपहर 11.45 बजे राज्यपाल प्रोफेसर गणेशीलाल नये मंत्रियों को शपथ दिलाएंगे।

25 वर्षों में पहली बार
अपने राजनीतिक जीवन में 25 साल पूरा करने वाले नवीन पटनायक ने अभी तक के 22 साल के मुख्यमंत्रित्व काल में पहली बार ऐसा निर्णय लिया है। इससे पहले भी उन्होंने मंत्रिमंडल में फेरबदल की है, तब कुछ मंत्रियों को हटाकर उनके स्थान पर नये लोगों को मंत्रिमंडल में शामिल करते थे।

गत 29 मई को मुख्यमंत्री के पांचवें कार्यकाल के तीन साल पूरे हुये हैं। राज्यसभा चुनाव व ब्रजराजगर उपचुनाव भी संपन्न हुआ है। ऐसे में मुख्यमंत्री आगामी 2024 आम चुनाव को ध्यान में रखकर अपने मंत्रिमंडल का गठन करना चाहते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here