अब महाराष्ट्र के इस मंत्री को आयकर विभाग ने थमाया नोटिस!

महाराष्ट्र सरकार की मुश्किलें बढ़ती दिख रही है। पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की गिरफ्तारी के बाद अब आईटी विभाग ने एक और मंत्री को नोटिस भेजा है।

भारतीय जनता पार्टी नेता किरीट सोमैया द्वारा महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार सहित पवार परिवार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाने के अगले दिन आयकर विभाग ने दादा को नोटिस थमा दिया है। आयकर विभाग की यह कार्रवाई ठाकरे सरकार के लिए बड़ा झटका है।

मिली जानकारी के अनुसार पवार की संपत्ति पर कार्रवाई के संबंध में अजित पवार को नोटिस भेजा गया है। 1 नवंबर को सोमैया ने अजित पवार पर 1,000 करोड़ रुपए से अधिक की बेनामी संपत्ति रखने का आरोप लगाया था। मामले में सोमैया ने आरोप लगाया था कि उपमुख्यमंत्री की मां, पत्नी और पवार परिवार के दामाद भी इसमें शामिल हैं।

सोमैया ने क्या कहा?
मैं दिवाली के बाद यह मामला उठाने वाला था, लेकिन पवार साहब जल्दी में थे। इसलिए मैंने उनके दामाद से जुड़े मामले का पर्दाफाश करने जा रहा हूं। उन्होंने अपने दामाद मोहन पाटील के जरिए करोड़ों रुपए की बेनामी संपत्ति पर अधिकार कर रखा है। जरंडेश्वर शुगर फैक्ट्री के जरिए अजित पवार के खाते में सैकड़ों करोड़ रुपये आए। यह पैसा बिल्डरों द्वारा दिया गाया। सोमैया ने आरोप लगाया कि अजित पवार ने यह पैसा परिवार के खाते में डाल दिया। ए. ए. पवार के साथ अजीत पवार ने भी अपनी मां के खाते में पैसे डायवर्ट किए हैं। सोमैया ने यह भी कहा कि मोहन पाटील, विजया पाटील और सुनेत्रा पवार सभी लोग इस खाते में लेनदेन करते हैं।

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्र के इतिहास में अब तक 5 मंत्री गिरफ्तार! जानें, किस पार्टी के कितने

पवार अब नवाब मलिक को प्रमोट कर रहे हैं
सोमैया ने यह भी कहा कि शरद पवार अब नवाब मलिक को पवार परिवार के खिलाफ आयकर की कार्रवाई से ध्यान हटाने के लिए बयानबाजी करने का दबाव डाल रहे हैं। सोमैया ने मलिक से पूछा कि वे समीर वानखेड़े की पहली शादी के दौरान चुप क्यों रहे, जब वह सेवा में आए तो चुप क्यों रहे? सोमैया ने यह भी कहा कि पवार परिवार ने महाराष्ट्र को खूब लूटा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here