नेपालः अब पीएम ओली ने योग पर ठोका दावा! कही ये बात

नेपाली पीएम केपी शर्मा ओली ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून को कहा कि नेपाल में योग तब से प्रचलित है, जब भारत एक राष्ट्र के तौर पर अस्तित्व में भी नहीं था।

भगवान राम का जन्म भारत के अयोध्या में नहीं, नेपाल में होने का दावा करने वाले नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने अब नया बयान देकर विवाद पैदा कर दिया है। ओली ने दावा किया है कि योग की शुरुआत भारत में नहीं नेपाल में हुई थी।

ओली अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून को एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नेपाल में योग तब से प्रचलित है, जब भारत एक राष्ट्र के तौर पर अस्तित्व में भी नहीं था। नेपाली पीएम ने कहा कि उस दौर में भारत कोई देश नहीं था, तब कुछ राज्य ही थे। इसलिए योग या तो नेपाल या फिर उत्तराखंड के आसपास शुरू हुआ था।

भारत ने दिलाई ख्याति
ओली ने कहा कि योग की खोज करने वाले संतों को इसका श्रेय नहीं दिया गया। हालांकि उन्होंने माना कि नेपाल योग को पूरे विश्व तक पहुंचा नहीं सका, जबकि भारत ने इसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्धि दिलाई। ओली ने कहा कि हमने उन संतों को क्रेडिट नहीं दिया, जिन्होंने योग की खोज की थी। हमने हमेशा प्रोफेसर्स और योगदान के बारे में बात की। लेकिन हम योग पर सही ढंग से दावा नहीं कर सके।

ये भी पढ़ेंः जिसे विश्व ने अपनाया, वो इस कांग्रेसी को नहीं भाया… जानें राजनीति का अनुलोम विलोम

पीएम मोदी को मिला श्रेय
ओली ने कहा कि हम योग को पूरे विश्व तक पहुंचाने में सफल नही रहे, लेकिन भारत के पीएम नरेंद्र मोदी ने यूनाइटेड नेशन को इसे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रुप में मनाने का प्रस्ताव दिया और उत्तरी गोलार्ध पर सबसे बड़े दिन के अवसर पर इसका आयोजन शुरू हुआ। इस प्रकार योग को पूरी दुनिया में फैलाने में भारत सफल हो गया।

 श्री राम के जन्म को लेकर किया ये दावा
बता दें कि इससे पहले केपी शर्मा ओली ने भगवान श्री राम के जन्म को लेकर भी दावा किया था। जुलाई 2020 में उन्होंने कहा था कि भगवान राम का जन्म भारत के अयोध्या में नहीं, नेपाल में हुआ। ओली ने कहा था कि श्री राम का जन्म नेपाल के चितवन जिले के अयोध्यापुरी में हुआ था। नेपाली पीएम ने कहा था, ‘अयोध्यापुरी नेपाल में था। वाल्मीकि आश्रम भी नेपाल के अयोध्यापुरी के नजदीक था। इसके साथ ही देवघाट क्षेत्र में देवी सीता का निधन हुआ था। यह स्थान भी अयोध्यापुरी और वाल्मिकि आश्रम के पास ही है।’

भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू
बता दें कि नेपाल के चितवन जिले में स्थित माडी नगर पालिका के अयोध्यापुर में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है। लगभग 100 बीघा भूमि पर निर्मित होने वाले इस मंदिर में भगवान राम, माता सीता और हनुमान जी के अलग-अलग मंदिर बनाए जाएंगे। इनकी मूर्तियों पर 16 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे। फिलहाल इसके लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here