नैंसी पेलोसी पहुंचीं जापान, चीन पर निशाना साधते हुए कही ये बात

अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी जापान दौरे पर पहुंची हैं। उन्होंने कहा कि उनका कार्यक्रम चीन नहीं तय कर सकता। अमेरिका ताइवाान को अलग-थलग करने की चीन की योजना को कभी सफल नहीं होने देगा।

नैंसी ने कहा कि चीन चाहता है कि ताइवान कहीं भी किसी भी मंच पर सहभागिता न दिखा सके। यही वजह है कि चीन उसको अलग-थलग रखना चाहता है। चीन हमें क्या, किसी को भी ताइवान जाने से रोक नहीं सकता है। नैंसी का एशिया दौरा का जापान आखिरी पड़ाव है।

ये भी पढ़ें – गोरखपुर-वाराणसी इंटरसिटी सहित इन ट्रेनों को मिला आईएसओ प्रमाणपत्र

जापान ने किया ताइवान का समर्थन
नैंसी के जापान दौरे पर दोनों देशों ने ताइवान का साथ देने पर सहमति जताई है। जापान का कहना है कि चीन की करीब पांच मिसाइल उसके इकोनामिक जोन में भी गिरी हैं। टोक्यो की तरफ से इस पर कड़ी नाराजगी जताई गई है । शुक्रवार को नैंसी पेलोसी ने जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशिदा से मुलाकात की। किशिदा का कहना है कि चीन की लाइव फायर ड्रिल से उनकी सुरक्षा को भी खतरा खड़ा हो गया है। इस बीच चीन ने कहा है कि वो आसिया सम्मेलन में जापान का बायकाट करेगा। ये सम्मेलन कंबोडिया में होगा।

गुस्साया चीन कर रहा है ऐसा
नैंसी के ताइवान दौरे के बाद चीन ने ताइवान को घेर कर लाइव फायर ड्रिल शुरू की है। यह 7 अगस्त तक चलेगी। गुरुवार को शुरू की गई इस लाइव फायर ड्रिल में करीब 12 डेनफांग मिसाइलों का भी इस्तेमाल किया गया। इस ड्रिल में चीन ने अपने कई अत्याधुनिक युद्धपोतों और विमानों को उतारा है। जापान ने इस फायर ड्रिल का कड़ा विरोध किया है। जापान का कहना है कि इस फायर ड्रिल से गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। ताइवान को भी इस ड्रिल की वजह से अपनी दर्जनों उड़ानों को रद करना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here