मुंबई कांग्रेस का एक तीर में दो शिकार! नाना के बाद भाई भी हुए आक्रामक

पिछले कुछ दिनों से मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने शिवसेना के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार कर रखा है।

पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र में कांग्रेस ने काफी आक्रामक रुख अपनाया है। उसके इस रुख से प्रदेश में कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार चला रही शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी दोनों की परेशानी बढ़ गई है। इसी तरह का एक ट्वीट मुंबई काग्रेस द्वारा किया गया है। इस ट्वीट में एक तरफ पीएम मोदी को निशाना बनाया गया है तो दूसरी ओर मुंबई महानगरपालिका में पिछले 26 साल से काबिज शिवसेना पर भी हमला बोला गया है।

मुंबई कांग्रेस द्वारा किए गए इस ट्वीट में लिखा गया है, ‘काश यह सुर्खियां भी मोदी जी की मन की बातों की तरह झूठी होतीं! पर बीएमसी नहीं सुधरेगी।’

इस ट्वीट में मुंबई की सड़कों पर पड़े गड्ढों की तस्वीरों के साथ ही संबंधित खबरें भी पोस्ट की गई हैं। अब तक अपने बयानों से भाजपा के साथ ही शिवसेना और राकांपा की भी परेशानी बढ़ाने वाली कांग्रेस ने अब सोशल मीडिया पर भी आक्रामकता दिखानी शुरू कर दी है।

कांग्रेस का आक्रामक रुख
बता दें कि पिछले कुछ दिनों से मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने शिवसेना के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार कर रखा है। हालांकि दिल्ली से आए संदेश के बाद प्रदेश नेतृत्व का उत्साह थोड़ा ठंढा पड़ गया है, लेकिन मुंबई कांग्रेस ने शिवसेना पर निशाना साधना जारी रखा है। इस ट्वीट में भाई जगताप ने शिवसेना की खुले तौर पर आलोचना की है।

ये भी पढ़ेंः पेगासस जासूसी कांड पर सरकार को घेरने की कोशिश कर रहे राहुल गांधी का भाजपा ने ऐसे उड़ाया मजाक!

2022 में होने हैं चुनाव
बता दें कि अगले साल मुंबई महानगरपालिका का चुनाव होना है। देश की सबसे अमीर इस महानगरपालिका के चुनाव पर सभी पार्टियों की निगाहें लगी हैं। पिछले 26 साल से इस मनपा पर शिवसेना की सत्ता है। अब जहां अगले चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने दम पर चुनाव लड़ने की घोषणा की है, वहीं शिवसेना और राकांपा मिलकर मैदान में उतर सकती हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी भी इस बार आरपार की लड़ाई लड़ने मैदान में उतरेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here