पश्चिम बंगालः नक्सली तृणमूल नेताओं में इस तरह फैला रहे हैं आतंक

मायोवादियों द्वारा जारी पोस्टर में लिखा है कि इलाके के गरीब लोगों का रुपया लूटने वाले तृणमूल नेताओं को जनता की अदालत में खड़ा कर जवाब मांगा जाएगा।

पश्चिम बंगाल में माओवादियों ने पोस्टर चिपकाए हैं। झाड़ग्राम जिले के बिनपुर थाना अंतर्गत आकाश कांथी मोड़ पर सफेद कागज पर लाल स्याही से लिखा हुआ पोस्टर दीवार पर चिपका मिला है। इसमें लिखा है कि आठ अप्रैल को बंद विरोधी प्रचार के लिए विकास महतो और चरण मंडी को लेकर जनता की अदालत में विचार किया जाएगा। सरकारी योजनाओं का लाभ तृणमूल नेताओं को क्यों दिया गया है। विकास महतो और चरण मंडी जवाब दो।

ये भी पढ़ें – बिहारः तेज के प्रताप से नेता ही नहीं, मीडियाकर्मी भी भयभीत! देखें, वीडियो- कैसे जान बचाकर भागा पत्रकार

माओवाद के नाम पर पोस्टर लगाकर बदनाम करने की कोशिश
इसके अलावा एक और पोस्टर मिला है। इसमें लिखा है कि इलाके के गरीब लोगों का रुपया लूटने वाले तृणमूल नेताओं को जनता की अदालत में खड़ा कर जवाब दिया जाएगा। पुलिस ने 28 अप्रैल सुबह पोस्टर जब्त कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस इन पोस्टर को फर्जी बता रही है और दावा कर रही है कि यह माओवादियों ने नहीं बल्कि अन्य लोगों ने लगाए हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक दिन पहले ही कहा था कि बंगाल में माओवाद के नाम पर विपक्षी पोस्टर लगाकर बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here