सिद्धू के सलाहकार ने छोड़ा पद! इनसे बताया अपनी जान को खतरा

कई मुद्दों पर विवादित बयान देने वाले पार्टी प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मालविंदर सिंह माली ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

पंजाब कांग्रेस में जारी गुटबाजी के बीच कश्मीर और इंदिरा गांधी पर विवादित बयान देने वाले पार्टी प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मालविंदर सिंह माली ने आखिरकार अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। पार्टी ने सिद्धू को उन्हें हटाने का सख्त आदेश दिया था। उसके बाद माली ने खुद ही इस्तीफा दे दिया। माली ने अब अपनी जान को खतरा बताया है और कहा है कि अगर उन्हें कुछ होता है तो उसके जिम्मेदार कैप्टन अमरिंदर सिंह और कुछ अन्य लोग होंगे।

इनसे बताया जान को खतरा
सिद्धू को लिखे अपने पत्र में मालविंदर सिंह माली मे कहा है कि मैं प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार पद से अपना इस्तीफा देता हूं। मेरे खिलाफ कुछ नेता नफरत फैलाने के कैंपेन चला रहे हैं। अगर मेरी जान को कोई नुकसान पहुंचता है तो इसके लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह, विजय इंद्र सिंगला, काग्रेस सांसद मनीष तिवारी, सुखबीर सिंह बादल, बिक्रमजीत सिंह मजीठिया, के सुभाष शर्मा के साथ ही आम आदमी पार्टी के राघव चढ्ढा तथा जनरैल सिंह जिम्मेदार होंगे।

ये भी पढ़ेंः पंजाब कांग्रेस में जोर आजमाइश जारी! अब क्या करेगा पार्टी हाई कमान?

सिद्धू ने नियुक्त किया था सलाहकार
सिद्धू ने हाल ही में माली और प्यारे लाल गर्ग को अपना सलाहकार नियुक्त किया था। इसके बाद माली पाकिस्तान, कश्मीर और इंदिरा गांधी पर विवादास्पद बयान देकर सुर्खियों में आ गए थे। इसके साथ ही वे अमरिंदर सिंह के खिलाफ भी खुलकरर बयाबबाजी कर रहे थे। उन्होंने उन्हें अली बाबा और उनके सहयोगियों को चालीस चोर कहा था।

पार्टी का स्टैंड
उनकी बयानबाजी से विवाद बढ़ता देख पंजाब पार्टी प्रभारी हरीश रावत ने सिद्धू से उन्हें बर्खास्त करने को कहा था। उन्होंने कहा था कि अगर सिद्धू ऐसा नहीं करते हैं तो मैं करूंगा। हम ऐसे लोगों को शह नहीं दे सकते, जिनकी वजह से पार्टी को शर्मिंदगी उठानी पड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here