उपमुख्यमंत्री फडणवीस ने की पूर्व की महाविकास आघाड़ी सरकार की आलोचन,

उपमुख्यमंत्री फडणवीस नागपुर में भाजपा के क्षेत्रीय पदाधिकारियों एवं जिलाध्यक्षों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। फडणवीस ने कहा कि पिछले 2.5 साल में उन्होंने किसानों और किसी अन्य संस्था की कोई मदद नहीं की।

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पूर्व की महाविकास आघाड़ी सरकार की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि निर्णय न लेना ही एमवीए सरकार का निर्णय हुआ करता था। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि शिंदे सरकार बहुत अच्छे से काम कर रही है। विरोधी बहुत परेशान हैं क्योंकि वे उस गति का मुकाबला नहीं कर सकते। इसलिए साजिश रचने का प्रयास किया जा रहा है। उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एमवीए की आलोचना करते हुए कहा कि फैसला न लेना महाविकास आघाड़ी सरकार का सबसे बड़ा फैसला था और हमने सरकार बनाकर उस सरकार को हैसियत दिखा दी है।

वे नागपुर में भाजपा के क्षेत्रीय पदाधिकारियों एवं जिलाध्यक्षों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। फडणवीस ने कहा,”पिछले 2.5 साल में उन्होंने किसानों और किसी संस्था की कोई मदद नहीं की। अब हमारी सरकार है, जो किसानों के पीछे खड़ी है। किसानों को अब तक 7 हजार करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं।”

जब छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशजों से सबूत मांगे गए तो आंदोलनकारी खामोश हो गए और अब हताशा में सड़कों पर उतर रहे हैं। वारकरी परंपरा महाराष्ट्र की शान है। उसका मजाक उड़ाने की कोशिश की गई थी। इसीलिए मोर्चे में आम लोग नहीं आए और नैनो मोर्चा निकला। पैसे बांटने के वीडियो थे, कौन किस लिए आया, मैंने वह वीडियो देखा। हमारी लड़ाई विपक्ष से नहीं है, उनके पास हमसे लड़ने की ताकत नहीं है। फडणवीस ने यह भी कहा कि उनकी लड़ाई नैरेटिव से है।

‘मविया’ ने किया गबन
-जब हम सरकार में आए तो हमने समीक्षा की। प्रधानमंत्री आवास योजना में पहले स्थान पर रहे महाराष्ट्र को वे 16वें स्थान पर ले गए। किस्त नहीं मिलने के कारण आम जनता को पैसा नहीं दिया जा रहा था।

-मविया के समय में विभिन्न संस्थाओं की छात्रवृत्ति बंद हो गई। अब जब हमारी सरकार आई तो 1000 करोड़ दिए।

-जिनके कैसेट ‘मुंबई को तोड़ने की साजिश’ पर अटके हुए हैं, उनसे जवाब मांगा जाना चाहिए कि मेट्रो-3 क्यों नहीं पूरा  किया गया? मुंबई और महाराष्ट्र के सारे प्रोजेक्ट क्यों ठप कर दिए गए?

-फडणवीस ने यह सवाल भी उठाया कि अगर मुंबई 15 दिन में खूबसूरत हो सकती है तो 25 साल सत्ता में रहने के बाद ऐसा क्यों नहीं हो सका?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here