हमारे सेक्युलरिज्म में ‘वो’ नहीं है!

सीएम उद्धव ठाकरे ने केंद्र सरकार से औरंगाबाद हवाई अड्डे का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज के नाम पर करने की मांग की है। उन्होंने इस संबंध में जल्द से जल्द अधिसूचना जारी करने का अनुरोध किया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने औरंगाबाद का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज करने को लेकर कई दिनों से चल रहे विवादों के बीच अपना पक्ष स्पष्ट किया है। उन्होंने कहा है कि औरंगजेब सेक्युलर नहीं था, इसलिए हमारे सेक्युलरिज्म की परिभाषा में वो फीट नहीं बैठता।

कांग्रेस, सपा खिलाफ
बता दें कि पिछले काफी दिनों से इस मुद्दे को लेकर महाराष्ट्र में राजनीति गरमाई हुई है। शिवसेना के औरंगाबाद के नाम बदलकर संभाजी नगर करने के एजेंडे पर कई पार्टियों ने विरोध दर्ज कराया है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहब थोरात समेत समाजवादी पार्टी के विधायक अबू आजमी ने भी इसका विरोध किया है।

ये भी पढ़ेंः ये हुआ जब कंगना पहुंची पुलिस थाने!

कांग्रेस की सलाह
थोरात ने जहां सीएम उद्धव ठाकरे को महाविकास आघाड़ी सरकर के गठन के समय तय किए गए कॉमन मीनिमम प्रोग्राम के तहत काम करने की सलाह दी है, वहीं आजमी ने रायगढ़ जिले का नाम बदलकर संभाजी महाराज के नाम पर करने का सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि औरंगाबाद का नाम बदलने से मुसलमानों की भावना आहत होगी, इसलिए उद्धव ठाकरे को इसका नाम न बदलकर रायगढ़ जिले का नामकरण छत्रपति संभाजी महाराज के नाम पर करना चाहिए।

औरंगाबाद हवाई अड्डे का नाम छत्रपति संभाजी के नाम पर करने की मांग
दो दिन पहले उद्धव ठाकरे ने केंद्र सरकार से औरंगाबाद हवाई अड्डे का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज के नाम पर करने की मांग की है। उन्होंने इस संबंध में जल्द से जल्द अधिसूचना जारी करने का अनुरोध किया है। सीएम ठाकरे ने इस मांग को लेकर नागरी विमानन मंत्री हरजीप सिंह पुरी को पत्र लिखा है। छत्रपति संभाजी महाराज मराठा शासक शिवाजी महाराज के पुत्र थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here