‘तुम्हें मुसीबत में नहीं छोड़ेंगे!’ मदद के मुद्दे पर बाढ़ पीड़ितों के हाथ फिर वही

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सांगली के दौरे पर थे। वहां उन्होंने स्थानीय लोगों से भेंट की।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सांगली के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। इस बीच मुख्यमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों से संवाद साधते हुए आश्वस्त किया है कि किसी को मुसीबत में नहीं छोड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री से आशाएं लिए सांगली वालों के हाथ भी आश्वासन की पुड़िया ही लगी है।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के सर्वेक्षण पर थे। उनके साथ पूरा लाव लश्कर भी था। मुख्यमंत्री ने सांगली के भिलवडी तहसील के अंकलखोप, डिग्रस का दौरा किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य पर संकटों की श्रृंखला चल रही है। परंतु, आप लोग चिंतित न हों, ये सरकार आपको मझधार में नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि, मंगलवार को मंत्रिमंडल की बैठक है आप लोगों के विषय में जो भी करना है वह करेंगे।

ये भी पढ़ें – ऐसा थप्पड़ मारूंगा कि वो उठ नहीं पाएगा! सीएम उद्धव ठाकरे का विपक्ष पर हमला

हो रहा पंचनामा
राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का प्रशासन द्वारा पंचनामा किया जा रहा है। इस बीच बाढ़ के एक सप्ताह के बाद भी प्रभावितों के हाथ मात्र आश्वासन ही है। चार दिन पहले चिपलून के बाढ़ प्रभावितों के लिए दस हजार रुपए की राहत राशि को घोषणा की गई थी। परंतु, यह राशि अभी तक खाते में नहीं पहुंच पाई है। सिंधुदुर्ग के पालक मंत्री उदय सामंत ने कहा है कि इस राहत राशि के पहुंचने में अभी समय लगेगा।

राहत राशि को लेकर राज्य सरकार के मुखिया के रूप में मुख्यमंत्री ने फिर दोहराया है कि संकट आने पर पैकेज घोषित किये जाते हैं। यही हमारी प्रथा है। परंतु, वह पैकेज जाता कहां है किसी को नहीं पता। मुझे ऐसे झूठ बोलना नहीं आता। जो कुछ भी करना है वह पूरी प्रामाणिकता से किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here