महाराष्ट्र में लॉकडाउन जैसा कड़ा प्रतिबंध!

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जनता से जनसंवाद स्थापित कर कोरोना संक्रमण पर जानकारी दी और लोगों से सहयोग मांगा।

राज्य में कोरोना संसर्ग के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए राज्य में लॉकडाउन अपरिहार्य हो गया था। इस विषय में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जनता से जनसंवाद किया। इसमें मुख्यमंत्री ने राज्य की वर्तमान स्थिति के विषय में बताया। मुख्यमंत्री ने कहा है कि रोजी प्रभावित होगी लेकिन रोटी छिनेगी नहीं।

  • मंगलवार रात 8 बजे से राज्य में संचार बंदी
  • सबेरे 7 बजे से रात 8 बजे तक अत्यावश्यक सेवा शुरू रहेगी
  • पंद्रह दिन राज्य में संचार बंदी
  • अनावश्यक घर से निकलने पर पूर्ण प्रतिबंध

ये रहेंगे शुरू

सार्वजनिक यातायात व्यवस्था शुरू रहेगी, स्वास्थ्य सुविधाएं और उससे जुड़े लोगों की आवाजाही शुरू रहेगी, दवाखाने, टीका उत्पादक, मास्क और जंतु नाशक उत्पादक, शीतालय (कोल्ड स्टोरेज), पार्सल सेवा शुरू रहेगी, हवाई यातायात का संचालन होगा, बैंक, सेबी और आरबीआई द्वारा मान्यता प्राप्त कार्यालय, अधिस्वीकृत पत्रकार, उद्योग व्यवसाय शुरू रहेगा यातायात की व्यवस्था करनी होगी, कृषि संबंधित कार्य चलते रहेंगे, मॉनसून पूर्व कार्य

किसको क्या सहायता

  • राज्य के 7 करोड़ लाभार्थियों को अगले एक महीने तक 3 किलो गेहूं, 2 किलो चावल देंगे
  • शिवभोजन थाली दी जाएंगी मुफ्त
  • 35 लाख लोगों को एक हजार रुपए देंगे
  • निर्माण क्षेत्र के 12 लाख पंजीकृत मजदूरों को 1500 रुपए देंगे
  •  घरेलू कर्मचारियों को भी सहायता करेंगे
  • 12 लाख रिक्शा चालकों को 1500 रुपए देंगे
  • खावटी योजना के अंतर्गत आनेवाले 12 लाख आदिवसी परिवारों को 2000 रुपए की सहायता

संबोधन की अन्य बातें

  • पंढपुर-मंगलवेढा विधान सभा में मतदान हैं उसके बाद वहां भी कड़क प्रतिबंध लागू होंगे
  • पिछले गुड़ी पाड़वा पर हमने शुभकामना दी थी की अगली गुड़ी पाड़वा कोरोना रहित हो
  • पिछले काल में जो लग रहा था कि इस युद्ध को हम जीत रहे हैं वह सपना टूट गया है
  • आज 60,212 संक्रमित आए सामने
  • कोविड जांच के लिए एक या दो ही लैब थी आज  512 हैं
  • इन सुविधाओं पर अब भार पड़ने लगा है
  • एमपीएसी, 10वीं-12वीं की परीक्षा हमने आगे कर दी
  • कोरोना की परीक्षा हमें जल्द से जल्द जीतनी होगी
  • यह काल यदि एक बार हमारे से निकली तो फिर ये दिन वापस नहीं आएंगी
  • 1200 मेट्रिक टन ऑक्सीजन हमारे राज्य में उत्पादित होता है इसमें से 950 मेट्रिक टन हम स्वास्थ्य के लिए कर रहे
  • रेमडिसवीर की कमी हम कम नहीं पड़ने नहीं देंगे
  • पीएम से ऑक्सीजन की अतिरिक्त व्यवस्था करने के लिए प्रधानमंत्री से विनंती की
  • इस ऑक्सीजन को हम तक पहुंचाने की व्यवस्था में भी सहायता करें
  • पीएम से विनंती – सेना की सहायता से हवाई मार्ग से हमें ऑक्सीजन दी जाए, वायु सेना की सहायता से इसे हम तक पहुंचाने की व्यवस्था करें… इसके लिए मैं फेसबुक लाइव से कर रहा हूं और पत्र व फोन से भी कर रहा हूं
  • मध्यम निन्म वर्ग के व्यापारियों के लिए तीन महीने के लिए जीएसटी में छूट की प्रार्थना करता हूं
  • ये भी एक नैसर्गिक आपत्ति है, इसलिए इसमें भी लोगों की व्यक्तिगत सहायता के लिए प्रधानमंत्री से प्रार्थना
  • टीकाकरण की गति तेजी से बढ़ाई गई है
  • पिछले कई महीनों में हमने कोविड 19 को बहुत निम्न स्तर पर रखा था
  • इस लहर में स्थिति गंभीर
  • हम जिद से लड़ेंगे और जीतेंगे
  • यह रुग्ण बढ़ोतरी भयावह है
  • ऑक्सीजन की कमी पड़ी रही है, आरोग्य सुविधा में कमी आ रही है जिसे हम बढ़ा रहे
  • आरोग्य सुविधा को बढ़ाने के लिए नए डॉक्टरों को ले रहे साथ
  • निवृत्त डॉक्टर और परिचारिकाओं को आवाहन करता हूं कि महाराष्ट्र के इस युद्ध में साथ लड़ने के लिए सामने आएं
  • सभी राजनीतिक पार्टियों से मांग करता हूं अब टीका टिप्पणी का समय नहीं है अन्यथा महाराष्ट्र माफ नहीं करेगा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here