महाराष्ट्रः मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की विदेश में अवैध संपत्ति! इस विधायक ने किया पुख्ता सबूत होने का दावा

भविष्य में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की परेशानी बढ़ सकती है। एक विधायक ने उनकी विदेश में अवैध संपत्ति होने का आरोप लगाया है।

महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी सरकार के कुछ मंत्रियों और विधायकों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं। केंद्रीय जांच एजेंसी भी इन मामलों की जांच कर रही है। लेकिन अब एक विधायक ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की विदेश में अवैध संपत्ति होने का आरोप लगाया है। इस विधायक ने अपने आरोप में यह भी कहा है कि वे इसकी शिकायत केंद्रीय जांच एजेंसी में दर्ज कराएंगे।

बता दें कि अमरावती की सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा कई बार प्रदेश की महाविकास आघाड़ी सरकार पर हमले कर चुके हैं। लेकिन सर्वोच्च न्यायालय द्वारा नवनीत राणा का जाति प्रमाण पत्र रद्द करने के फैसले पर रोक लगाने के बाद राणा दंपत्ति अब और ज्यादा आक्रामक हो गए हैं। इसी कड़ी में अब नवनीत राणा के पति रवि राणा ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

क्या कहा रवि राणा ने?
रवि राणा ने अपने आरोप में कहा है कि कुछ साल पहले जब नवनीत राणा ने अमरावती लोकसभा से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया, तो उन पर सांसद आनंदराव अडसुल द्वारा कई तरह के आरोप लगाए गए। यहां तक कि उन्होंने नवनीत राणा के खिलाफ अनुसूचित जाति-अनुसूचित आयोग में शिकायत दर्ज करा दी। 2013 में, अडसुल ने नवनीत राणा की जाति प्रमाण पत्र को लेकर सत्यापन समिति में शिकायत दर्ज कराई थी। लेकिन दोनों बार नवनीत राणा जीत गईं। इसके बाद बॉम्बे उच्च न्यायालय द्वारा उनके जाति प्रमाण पत्र को रद्द करने के फैसले से मुझे बड़ा झटका लगा, इसलिए हमने इस संबंध में सर्वोच्च न्याायालय में अपील की, जिसमें न्यायालय ने उच्च न्यायालय के फैसले पर रोक लगा दी। रवि राणा का कहना है कि इस मामले में नवनीत राणा को न्याय मिला है।

ये भी पढ़ेंः बैंक घोटालाः नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और विजय माल्या पर दिखने लगा है सरकारी एक्शन का असर!

मुख्यमंत्री के इशारे पर परेशान करने के आरोप
रवि राणा ने इस मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ ही राज्य के परिवहन मंत्री अनिल परब के खिलाफ भी गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने अपने आरोप में कहा है कि उद्धव ठाकरे के इशारे पर अनिल परब ने उन्हें और उनकी पत्नी नवनीत राणा को निशाना बनाया। राणा ने कहा कि मुख्यमंत्री नफरत की राजनीति कर रहे हैं। मुझे विदेश में उद्धव ठाकरे की कई अवैध संपत्तियों के बारे में जानकारी मिली है। हमारे पास उनके घर, होटल और विदेशों में जमीन आदि को लेकर पुख्ता प्रमाण हैं। राणा ने चेतावनी दी है कि यह सबूत ईडी और सीबीआई को सौंपकर वे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे। इसके साथ ही वे अनिल परब के खिलाफ उनके अवैध रिसॉर्ट को लेकर भी कार्रवाई की मांग करेंगे।

ये भी पढ़ेंः इन मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं महाराष्ट्र के सरकारी अस्पतालों की नर्सेज!

क्या कहा नवनीत राणा ने?
सांसद नवनीत राणा ने आरोप लगाते हुए कहा कि जब मैं राजनीति में आने की कोशिश कर रही थी तब शिवसेना ने मुझ पर महाराष्ट्र से नहीं होने का आरोप लगाकर मुझे राजनीति से दूर रखने की कोशिश की। हमने 2014 के चुनावों के दौरान 8 महीने के बच्चे के साथ पुलिस थाने के चक्कर लगाए। इसके साथ ही समिति के समक्ष पूछताछ के लिए कई बार पेश हुई तथा उच्च न्यायालय से लेकर सर्वोच्च न्यायालय तक संघर्ष किया।

एक महिला की आवाज दबाने का षड्यंत्र
नवनीत राणा ने आरोप लगाया है कि ये सब एक महिला की आवाज को दबाने के लिए किया गया, जो लोगों के हित में आवाज उठा रही थी। उन्होंने कहा कि वे अभी भी मेरे खिलाफ षड्यंत्र रच रहे हैं। मेरे विरोधी अभी हारे नहीं हैं। लेकिन वे मुझे भी नहीं हरा पाए है। अमरावती की जनता ने उन्हें खारिज कर दिया है। उन्होंने 2019 में मुझे जीताकर ये बात साबित कर दी है। नवनीत राणा ने कहा कि इन दो वर्षों में मैंने हमेशा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की गलत नीतियों का विरोध किया है, इसलिए वे मुझे परेशान करने के लिए तरह-तरह की साजिश रच रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here