पीएम के स्वागत के लिए काशी तैयार, 2100 करोड़ की ‘इन’ परियोजनाओं का देंगे उपहार

वाराणसी आने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी बेहद उत्साहित हैं । उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि मेरे संसदीय क्षेत्र के साथ पूरे उत्तर प्रदेश के लिए 23 दिसंबर का दिन विकास कार्यों को समर्पित रहेगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 23 दिसंबर को वाराणसी पहुंचेंगे। प्रधानमंत्री के भव्य स्वागत के लिए भाजपा कार्यकर्ता तैयार हैं। बाबतपुर एयरपोर्ट से करखियांव जनसभा स्थल तक प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह बड़ा होर्डिग-बैनर पोस्टर लगाया है। राह में भी प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए पुष्प वर्षा की तैयारी है।

प्रधानमंत्री लगभग दो घंटे के प्रवास में करखियांव में अमूल डेयरी प्लांट सहित 2095.67 करोड़ रुपये की 27 परियोजनाओं की सौगात अपने संसदीय क्षेत्र को देंगे। इसके साथ ही राष्ट्रीय व प्रदेश स्तर के तीन विकास कार्यक्रमों का शुभारम्भ भी करेंगे। उनमें एक ‘प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना’ के तहत प्रदेश के 20 लाख से अधिक लोगों को ग्रामीण आवासीय अधिकार रिकॉर्ड ‘घरौनी’ का वर्चुअली वितरण भी शामिल है।

पीएम काफी उत्साहित
वाराणसी आने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी बेहद उत्साहित हैं । उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि मेरे संसदीय क्षेत्र के साथ पूरे उत्तर प्रदेश के लिए 23 दिसंबर का दिन विकास कार्यों को समर्पित रहेगा। वाराणसी में दोपहर करीब एक बजे कई परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास का सौभाग्य प्राप्त होगा। इनसे राज्य की अर्थव्यवस्था के साथ ही किसान भाई-बहनों को भी लाभ होगा।

ये है कार्यक्रम का रुपरेखा
बता दें कि प्रधानमंत्री अपरान्ह बाबतपुर एयरपोर्ट पर एयरफोर्स के विमान से पहुंचेंगे। यहां से करीब 12 किमी दूर करखियांव स्थित सभास्थल पर सड़क मार्ग से जाएंगे। प्रधानमंत्री वहां 870.16 करोड़ से अधिक लागत वाली 22 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। साथ ही, 1225.51 करोड़ की पांच परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। इनमें सबसे बड़ा प्रोजेक्ट 475 करोड़ से करखियांव में बनास डेयरी संकुल है। 30 एकड़ भूमि में फैले इस डेयरी का निर्माण दो वर्ष में होगा।

प्रधानमंत्री के हाथों लोकार्पित और शिलान्यास होने वाली परियोजनाएं
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इन परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। 50 बेड युक्त एकीकृत आयुष चिकित्सालय ग्राम भदरासी विकास खंड आराजीलाइन- 6.41 करोड़ रुपये,कालभैरव वार्ड का पुनर्विकास कार्य -16.24 करोड़ (स्मार्ट सिटी ),राजमंदिर वार्ड का पुनर्विकास कार्य-13.53 करोड़ (स्मार्ट सिटी), दशाश्वमेध वार्ड का पुनर्विकास कार्य- 16.22 करोड़ (स्मार्ट सिटी), -जंगमबाड़ी वार्ड का पुनर्विकास कार्य-12.65 करोड़ (स्मार्ट सिटी), -गढ़वासी टोला का पुनर्विकास कार्य-7.90 करोड़ (स्मार्ट सिटी), -नदेसर तालाब का विकास एवं सुंदरीकरण -3.02 करोड़ (स्मार्ट सिटी), -सोनभद्र तालाब का विकास एवं सुंदरीकरण -1.38 करोड़ (स्मार्ट सिटी), -शहर में 720 स्थल पर उन्नत सर्विलांस कैमरा-128 .04 करोड़ (स्मार्ट सिटी),बेनियाबाग पार्क में भूमिगत पार्किंग व पार्क का विकास कार्य-90.42 करोड़ (स्मार्ट सिटी),सड़क व चौराहों का सुधार कार्य (फेज-1 मैदागिन से गोदौलिया, गोदौलिया से सोनारपुरा व सोनारपुरा से अस्सी व सोनारपुरा से भेलूपुर व गोदौलिया से गिरजाघर) -25 करोड़ (स्मार्ट सिटी)-50 एमएलडी क्षमता की एसटीपी रमना का निर्माण – 161.31 करोड़ (गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई), बीएचयू में डॉक्टर हॉस्टल, नर्स हॉस्टल और धर्मशाला का निर्माण-130 करोड़ (केंद्रीय लोक निर्माण विभाग),बीएचयू में अंतरविश्वविद्यालयी शिक्षक शिक्षा केंद्र का निर्माण – 107.36 करोड़ (केंद्रीय लोक निर्माण विभाग),बीएचयू में 80 आवासीय फ्लैट-पैकेज-1 तहत जोधपुर काॅलोनी में निर्मित-60.63 करोड़ (केंद्रीय लोक निर्माण विभाग),बीएचयू में 80 आवासीय फ्लैट-पैकेज-2 तहत जोधपुर कालोनी में निर्मित-60.63 करोड़ (केंद्रीय लोक निर्माण विभाग), राजकीय आईटीआई करौंदी में 13 आवासों का निर्माण-2.75 करोड़ (सीएंडडीएस), गुरु रविदास की जन्म स्थली सीरगोवर्धन के पर्यटन विकास फेज-1 के तहत सामुदायिक हॉल और शौचालय का निर्माण-5.35 करोड़ (राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड भदोही इकाई),-अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान ईरी में स्पीड ब्रीडिंग फैसिलिटी का निर्माण-3.55 करोड़ (ईरी के सवीर बायोटेक लिमिटेड), केंद्रीय उच्च तिब्बती शिक्षण संस्थान सारनाथ में शिक्षक प्रशिक्षण भवन का निर्माण-7.10 करोड़ (नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन), तहसील पिंडरा में दो मंजिला अधिवक्ता भवन का निर्माण-1.64 करोड़ (लोक निर्माण विभाग, निर्माण खंड), क्षेत्रीय निर्देश मानक प्रयोगशाला का निर्माण पिंडरा-9.03 करोड़ (केंद्रीय लोक निर्माण विभाग) है।

स्वामित्व योजना के तहत घरौनी वितरित करेंगे
जनसभा में सम्बोधन के पूर्व प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत घरौनी वितरित करेंगे। फिर बटन दबाकर प्रदेश भर के 20 लाख लोगों को घरौनी का लिंक मैसेज से भेजेंगे। इसके साथ ही प्रधानमंत्री दुग्ध उत्पादों की गुणवत्ता के लिए पोर्टल और लोगों को भी लांच करेंगे। वाराणसी के आधा दर्जन परिवारों को घरौनी का प्रमाण पत्र देंगे। जनसभा के मंच से ही प्रधानमंत्री अपने हाथों से वाराणसी के छह परिवारों को घरौनी का प्रमाण पत्र देंगे। इसमें तीनों तहसील यानी सदर, पिंडरा व राजातालाब के दो-दो परिवार शामिल होंगे।

इन योजनाओं का करेंगे शिलान्यास

– बनास काशी संकुल -करखियांव – 475 करोड़

– मोहनसराय दीनदयाल चकिया मार्ग (लंबाई 11 किमी) के मध्य सर्विस लेन के साथ सिक्स लेन कार्य – 412.53 करोड़

– वाराणसी -भदोही-गोपीगंज मार्ग (एसएच-87) भी फोर लेन ( 8.6 किलोमीटर) मार्ग का चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण- 269 .10 करोड़

– दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड संयत्र, रामनगर बायो गैस पावर उत्पादन केंद्र -19 करोड़

– आयुष मिशन के तहत राजकीय होम्याेपैथिक मेडिकल कॉलेज- 49.99 करोड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here