जेपी नड्डा के निशाने पर नीतीश, कानून व्यवस्था को लेकर कही ‘यह’ बात

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि केंद्र सरकार बिहार के विकास के लिए योजनाएं भेजती है, लेकिन इन योजनाओं का लाभ बिहार की जनता को नहीं मिलता। ये योजनाएं जंगलराज की भेंट चढ़ जाती हैं।

महागठबंधन सरकार बनने के बाद पहली बार बिहार पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला। जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार में एक बार फिर जंगलराज लौट आया है। बिहार की जनता अब बदलाव चाहती है। जनता में जिस तरह से भाजपा को लेकर उत्साह और उमंग दिख रही है, उससे तय है कि इस बार प्रदेश में कमल खिलेगा।

नीतीश की सरकार में कौन कर रहा है शासन ?
मुजफ्फरपुर के पारु में एक जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि जब से राज्य में महागठबंध सरकार बनी है तब से कोई भी ऐसा दिन नहीं गया होगा, जब प्रदेश में अपराधिक वारदात न हुई हो। नीतीश कुमार की सरकार में यह समझ नहीं आ रहा है कि शासन कौन कर रहा है? उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की कोशिशों के बावजूद बिहार में विकास नहीं हो रहा है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि विकास यात्रा में कहीं बिहार पीछे न छूट जाए, इसके लिए अब समय आ गया है कि भाजपा को प्रदेश की सेवा करने का अवसर मिले।

ये भी पढ़ें- रक्षा मंत्री की चेतावनी: अरुणाचल को उपहार, चीन को फटकार

अब आ गया बिहार को निर्णय करने का समय
जेपी नड्डा ने महागठबंधन सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र सरकार बिहार के विकास के लिए योजनाएं भेजता है, लेकिन इन योजनाओं का लाभ बिहार की जनता को नहीं मिलता। यह योजनाएं जंगलराज की भेंट चढ़ जाती हैं। जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार की जनता जो फैसला कर लेती है उसे वह निर्णायक मोड़ तक ले जाती है। अब बिहार के निर्णय करने का समय आ गया है। इस बार जनता भाजपा को लाने का मन बना चुकी है।

नीतीश ने किया जनादेश का अपमान
जेपी नड्डा ने कहा कि नीतीश सरकार एनडीए से अलग होकर महागठबंधन के साथ सरकार बना ली, यह जनादेश का अपमान है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आखिर नीतीश कुमार ने जब एनडीए तोड़ी तो क्या एक बार भी राज्य की जनता के बारे में सोचा। जेपी नड्डा ने कहा कि भाजपा बिहार में जनता की सेवा करने के लिए आई थी न की सत्ता का भोग करने। आने वाले समय में बिहार की जनता इस अपमान का जवाब जरूर देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here