मुख्यमंत्री से पूछताछ के लिए दिल्ली से रांची पहुंचे ईडी के संयुक्त निदेशक

मुख्यमंत्री ईडी के समन के विरुद्ध कोर्ट जा सकते हैं। विधि विशेषज्ञों की सलाह लेने के बाद वे इस संबंध में निर्णय लेंगे।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को अवैध पत्थर खनन से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 3 नवंबर पूर्वाह्न 11:30 बजे पूछताछ के लिए तलब किया गया है। मुख्यमंत्री से पूछताछ के लिए दिल्ली से ईडी के संयुक्त निदेशक कपिल राज 3 नवंबर को रांची पहुंच गए है। ईडी ने विशेष संदेशवाहक के जरिए मुख्यमंत्री को समन भेजा है। संभावना है कि मुख्यमंत्री ईडी के समन के विरुद्ध कोर्ट जा सकते हैं। विधि विशेषज्ञों की सलाह लेने के बाद वे इस संबंध में निर्णय लेंगे।

ये भी पढ़ें – जम्मू कश्मीर में मार्च-अप्रैल में होगा चुनाव? राजनीतिक सरगर्मियों तेज

प्रेम प्रकाश और अमित अग्रवाल से पूछताछ में मिले तथ्यों के आधार
जानकारी के मुताबिक ईडी ने अवैध खनन मामले में पूर्व में गिरफ्तार उनके बरहेट विधानसभा क्षेत्र के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा, निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल, नेताओं व नौकरशाहों के करीबी प्रेम प्रकाश और अमित अग्रवाल से पूछताछ में मिले तथ्यों के आधार पर उन्हें समन किया है। ईडी को पूर्व में छापेमारी के दौरान पंकज मिश्रा के घर से एक लिफाफा मिला था, जिसमें मुख्यमंत्री के बैंक खाते से जुड़ाचेकबुक भी मिला था, जिसमें दो चेकबुक हस्ताक्षरित थे। जानकारी के अनुसार अगर पहले समन पर मुख्यमंत्री ईडी के कार्यालय में उपस्थित नहीं होंगे, तो उन्हें ईडी फिर समन करेगी। तीन समन के बाद भी उपस्थित नहीं होने पर ईडी कानून सम्मत कार्रवाई करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here